कासगंज, संवाद सहयोगी : अमांपुर के गांव देवपुर में प्रधान के भाई की गोली मारकर की गई हत्या के मामले में पुलिस आरोपितों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। चार दिन बीतने के बाद भी आरोपित पुलिस की पहुंच से दूर हैं। सोमवार को जिले के बाहर गई टीमें भी बैरंग लौटी हैं। पुलिस की टीम हत्यारोपितों की तलाश में जुटी हैं।

शनिवार को थाना अमांपुर के गांव देवपुर में ग्राम प्रधान के भाई यशवीर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना में छह लोगों को नामजद किया गया है। पुलिस आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है, लेकिन सफलता नहीं मिल रही है। बीते तीन दिनों में पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित दर्जन भर ठिकानों पर दबिश दी, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली। एसपी बोत्रे रोहन प्रमोद के निर्देश पर पुलिस की टीमें गैर जनपद भेजी गईं थी। वह भी खाली हाथ लौटी हैं। अभी तक आरोपित पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। एसपी ने बताया कि पांच टीमें आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए लगाई गई हैं, शीघ्र ही सफलता मिलेगी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एसपी से मिले स्वजन, आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग

मंगलवार को मृतक के स्वजन भाई ग्राम प्रधान रामकुमार, बंटी सोलंकी एवं चाचा अच्छे सोलंकी ने पुलिस कार्यालय पहुंचकर एसपी बोत्रे रोहन प्रमोद से मुलाकात की। उन्होंने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर हत्यारोपितों की गिरफ्तारी की मांग की। जिला पंचायत सदस्य अवनीश सोलंकी को घटना के मुख्य आरोपित बताते हुए उससे परिवार के अन्य सदस्यों की जान को खतरा बताया है। एसपी ने स्वजन को आश्वस्त किया है कि 24 घंटे में आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Edited By: Jagran