जासं, कासगंज: कर्मचारी शिक्षक अधिकारी-कर्मचारी पुरानी पेंशन बहाली मंच के बैनर तले शिक्षक एवं कर्मचारियों ने पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर पंचायत कार्यालय पर सभा कर धरना दिया और सरकार से पुरानी पेंशन बहाली की मांग की। वक्ताओं ने पुरानी पेंशन बहाली न होने तक संघर्ष जारी रहने का ऐलान किया।

धरना प्रदर्शन के दौरान सभा को संबोधित करते हुए आलोक दुबे ने कहा कि सरकार हठधर्मी बनी हुई है। उसे अपनी इस हठर्धिमता का परिणाम भुगतना होगा। राजकुमार छोकर ने कहा कि कर्मचारियों की यह मांग जायज है, लेकिन सरकार मनमानी पर अड़ी है। लेकिन सरकार को झ़ुकना ही होगा। उन्होंने शिक्षकों, कर्मचारियों से कहा कि सभी एकजुट रहे और संघर्ष जारी रखें। अधिकार मिलकर ही रहेगा। सुनील शर्मा ने कहा कि अब संघर्ष को आगे बढ़ाना होगा, तभी सरकार की कान पर जूं रेंगेगी। उन्होंने कहा कि यह कार्य बहिष्कार 31 तक जारी रहेगा। इस दौरान उपस्थित कर्मचारियों ने सरकार के विरुद्ध अपना आक्रोश जताते हुए नारेबाजी की। इस मौके पर प्रभा कुमारी, रेखा वर्मा, अलका वर्मा, ताराचंद्र, नरेंद्र वर्मा सहित आदि वक्ताओं ने अपने विचार व्यक्त किए। धरना प्रदर्शन के मौके पर ऋषीपाल ¨सह, भरत ¨सह, रामवीर यादव, करतार ¨सह, मुंशी लाल, एके गौतम, विमल कुमार, ज्ञान ¨सह, महेंद्र ¨सह सोलंकी, ओमवीर ¨सह, करन ¨सह बघेल, संजीव कुमार, भगवान ¨सह, अजीत चौधरी, प्रवीन कुमार आदि बड़ी संख्या में कर्मचारी और शिक्षक मौजूद रहे।

Posted By: Jagran