कासगंज, जागरण संवाददाता। भले ही टॉप टेन की सूची में टॉप थ्री में एक भी छात्रा नहीं है, लेकिन अगर ऑवर ऑल देखें तो बेटियों ने इस बार भी बाजी मारी है। हाईस्कूल और इंटर दोनों में ही परीक्षा में बैठने वाली छात्राओं की संख्या कम थी, लेकिन पास होने का फीसद ज्यादा है।

इंटर के परीक्षाफल पर गौर फरमाएं तो 65 फीसद से कम छात्र पास हुए हैं, जबकि 78 फीसद से ज्यादा छात्राएं पास हुई हैं। हाईस्कूल में हालांकि छात्रों एवं छात्राओं के बीच अंतर ज्यादा नहीं है। इंटर में 87 फीसद से ज्यादा छात्राएं पास हुई हैं तो 78 फीसद छात्र पास हुए हैं। यहां पर भी 11 फीसद छात्राएं ज्यादा पास हुई हैं। परीक्षाफल घोषित होने के बाद छात्राओं में उत्साह भी दिखा। सहेलियों के साथ में छात्राओं ने सफलता का जश्न मनाया तो इसके बाद में सोशल साइट्स पर अपनी तस्वीर भी अपलोड की। श्रीमती द्रोपदी देवी जाजू सरस्वती बालिका विद्यालय में शिक्षिकाओं ने छात्राओं को सफलता की बधाई दी।

हाईस्कूल का बढ़ा, इंटर का घटा परीक्षाफल : बीते वर्ष से तुलना करें तो हाईस्कूल का परीक्षाफल घटा है। हाईस्कूल का परीक्षाफल पिछले वर्ष 78.9 फीसद रहा था, जबकि इस बार 81.9 फीसद बच्चे पास हुए हैं। वहीं इंटर का परीक्षाफल पिछले साल की तुलना में इस बार कम हुआ है। इंटर में बीते वर्ष 75 फीसद से ज्यादा बच्चे पास हुए थे, जबकि इस बार मात्र 70.19 फीसद छात्र पास हुए हैं।

परीक्षाफल एक नजर में

इंटरमीडिएट

कुल परीक्षार्थी उत्तीर्ण

छात्र 8206 5273

छात्राएं 5756 4527

कुल 13962 9800

हाईस्कूल

छात्र 10831 8461

छात्राएं 7495 6558

कुल 18326 1519

कितने फीसद हुए पास

इंटर : 64.26 फीसद छात्र तथा 78 फीसद छात्राएं पास। हाईस्कूल : 78.12 फीसद छात्र तथा 87.50 फीसद छात्राएं उत्तीर्ण। 5651 छात्र-छात्राएं नहीं हुए थे परीक्षा में शामिल।

-------

'परीक्षा में पास होने वाले छात्रों को भविष्य के लिए हम शुभकामनाएं देते हैं। जिनके नंबर कम आए हैं, वो भी निराश न हों। जिदगी में सिर्फ यही परीक्षा नहीं थी, आगे भी परीक्षाएं हैं। उनके लिए मेहनत एवं लगन से तैयारी करें।'

-आरएस राजपूत

जिला विद्यालय निरीक्षक

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस