कासगंज, संवाद सहयोगी : कृषि कानून वापस लेने की मांग को लेकर किसान यूनियन का आंदोलन प्रदर्शन तक ही सिमट कर रह गया। पुलिस प्रशासन की सजगता के चलते जिले में कहीं भी रेल नहीं रोकी जा सकी। किसानों ने राष्ट्रपति के नाम एसडीएम को ज्ञापन दिया है।

संयुक्त किसान मोर्चा का सोमवार को देशभर में रेल रोको आंदोलन का आह्वान किया था। जिले में भारतीय किसान यूनियन स्वराज ने रेल रोको आंदोलन को अमलीजामा पहनाने का प्रयास किया। पटियाली, सहावर, नगरिया, सोरों, कासगंज सहित सभी स्टेशनों पर पर्याप्त मात्रा में पुलिस फोर्स लगा दिया गया था। किसान नेताओं को उनके घर में ही नजरबंद कर दिया गया था। इसके बावजूद भी भारतीय किसान यूनियन स्वराज के राष्ट्रीय अध्यक्ष कुलदीप पांडेय के नेतृत्व में कार्यकर्ता और किसानों ने शहर में प्रदर्शन किया। जुलूस के रूप में सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए कार्यकर्ता बिलराम गेट, सरकूलर रोड होते हुए गांधी मूर्ति पहुंचे। वहां पुलिस ने रेलवे रोड की ओर जाने वाले मार्ग पर बेरिकेडिंग लगाकर मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। बैरिकेडिंग तोड़कर कार्यकर्ता रेलवे स्टेशन की ओर कूच कर गए। वहां आरपीएफ, जीआरपी सहित तैनात कोतवाली पुलिस ने उन्हें स्टेशन जाने से रोक दिया। एसडीएम शिव कुमार सिंह, सीओ डीके पंत ने राष्ट्रीय अध्यक्ष कुलदीप पांडेय से बात की। इसके बाद किसानों ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविद को संबोधित चार सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को दिया। किसान नेताओं को किया नजरबंद

भारतीय किसान यूनियन टिकैत के जिलाध्यक्ष संजय प्रजापति व अन्य पदाधिकारियों को उनके आवास पर ही नजरबंद कर दिया गया। आवास पर ही कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी प्रदर्शन किया। तीनों कृषि कानून वापस लिए जाने की मांग की। जिलाध्यक्ष एवं कार्यकर्ताओं ने एसडीएम रवेंद्र कुमार को ज्ञापन दिया। उरूज खांन, न•ाीम खांन, लोकपाल सिंह सोलंकी, राजेंद्र सक्सेना, आसिफ अल्वी, कदीर उल्ला, मुनताज अहमद, विनोद कुमार शर्मा, नरेंद्र सिंह, विजेंद्र सिंह, दुरबीन सिंह यादव, विलेस सिंह, सत्यभान सिंह चौहान, राकेश चतुर्वेदी, यशपाल सिंह शाक्य, जागन सिंह शाक्य, भगवती प्रसाद शाक्य, लालाराम शाक्य, भूरे सैफी, सलमान अल्वी, रामअवतार सिंह सोलंकी, महीपाल सिंह शाक्य, शेरसिंह शाक्य, राकेश, दक्ष मौजूद रहे। एसडीएम को ज्ञापन सौंप लौटे किसान नेता

गंजडुडवारा में भारतीय किसान यूनियन स्वराज के कार्यकर्ताओं ने सरकार विरोधी प्रदर्शन किया। स्टेशन पर पहुंचे लगभग दो दर्जन किसान रेल रोकने की मंशा पूरी नहीं कर पाए। एसडीएम रवेंद्र कुमार, सीओ आरके तिवारी को चार सूत्रीय मांग पत्र देकर वापस लौटे। सुधीर मिश्रा, आशु भारद्वाज, हिमांशु भारद्वाज, संदीप यादव, प्रदीप यादव आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran