कासगंज, संवाद सहयोगी : पुलिस ने ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है जो यात्री बनकर वाहनों की लूट करते हैं। बुधवार को वारदात के 24 घंटों के भीतर गिरोह के चार सदस्य पुलिस ने गिरफ्तार कर लिए। इनके पास से लूटा हुआ आटो रिक्शा, मोबाइल, नकदी एवं लूट में प्रयुक्त किया गया तमंचा एवं चाकू बरामद किया गया है।

एसपी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि शहर के चामुंड़ा गेट निवासी बबलू ने कोतवाली पुलिस को तहरीर दी है कि पेशे से आटो रिक्शा चालक है। 26 जुलाई को बसस्टैंड के बाहर सवारियों का इंतजार कर रहा था। इसी दौरान पांच युवक बिलराम जाने के लिए आटो में सवार हो गए। जैसे ही हजारा नहर के निकट पहुंचा तभी उसकी कनपटी पर तमंचा रखकर हाथ पैर बांधकर उसे ईदगाह के निकट फेंक गए। लुटेरों ने उसकी जेब से मोबाइल, 23 सौ रुपये निकाल लिए और आटो लेकर भाग गए। इंस्पेक्टर विनेाद कुमार मिश्रा ने टीम बनाकर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी। लक्ष्मी टाकीज के निकट से कलियानपुर निवासी सुधीश को हिरासत में लिया। पूछताछ के बाद उसने आटो लूट की घटना कबूलते हुए गांव के ही साथी अभिषेक, विक्रम, मिथुन एवं ओमवीर के नाम भी बताए। पुलिस ने ओमवीर को छोड़कर सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से पुलिस ने लूटा हुआ आटो, मोबाइल, लूटी हुई रकम एवं घटना में प्रयुक्त तमंचा, आठ कारतूस एवं चाकू भी बरामद किया है। हत्यारोपी तमंचा सहित गिरफ्तार

बुधवार की सुबह करीब पांच बजे पटियाली क्षेत्र के ग्राम ककराला में कृपाशंकर गुप्ता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस मामले के आरोपित कृपाशंकर की प्रेमिका पुष्पा शाक्य के पुत्र जिला फर्रुखाबाद थाना कंपिल क्षेत्र के ग्राम सिवारा निवासी पंकज कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। एसपी बोत्रे रोहन प्रमोद ने गिरफ्तारी के संबंध में पत्रकारों को जानकारी दी है। उन्होंने बताया है कि आरोपित से एक तमंचा एवं चार कारतूस भी बरामद किए हैं। आरोपित का भाई राज कुमार हीरो की पुलिस तलाश कर रही है। घटना का पर्दाफाश करने पर टीम को पुरस्कार

यात्री बनकर वाहनों की लूट करने वाले गिरोह के चार सदस्यों को कासगंज कोतवाली पुलिस ने 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया। आटो रिक्शा एवं लूट गया अन्य सामान भी बरामद कर लिया। संबंधित पुलिस टीम को एसपी ने पुरस्कार के रूप में 25 हजार रुपये देने की घोषणा की है।

Edited By: Jagran