कासगज, संवाद सहयोगी: जिले में बीते 24 घंटे में कोरोना संक्रमित आठ लोगों की मौत हो गई। चार ने जिला अस्पताल और तीन ने मिशन हास्पिटल में दम तोड़ा। वहीं एक महिला की मौत लखनऊ में उपचार के दौरान हुई। स्वजनों ने शवों का अंतिम संस्कार कर दिया।

कोरोना संक्रमण से मरने वालों का क्रम थम नहीं रहा है। बीते 24 घंटे में मिशन हास्पिटल में भर्ती कोरोना संक्रमित शहर के लक्ष्मीगंज निवासी राजीव गुप्ता, चित्रगुप्त कालोनी निवासी रामबेटी एवं यादव नगर निवासी सुघड़ सिंह की मौत हो गई। तीनो का कई दिनों से उपचार चल रहा था। वहीं, जिला अस्पताल के कोविड वार्ड में भर्ती कासगंज की बिलराम गेट निवासी रामवती पत्नी रामपाल, नगला काशी निवासी भगवान देवी पत्नी राजाराम, ढोलना के गांव मुहम्मदपुर निवासी राजकुमार पुत्र हीरा लाल, शहर की आवास विकास कालोनी निवासी सरिता पत्नी ओमप्रकाश ने दम तोड़ दिया। दो महिलाओं की उपचार से पहले ही हुई मौत

पटियाली कोतवाली के गांव बीनपुर में सरोज पत्नी दयानंद एवं दूदावती पत्नी रामौतार की मौत हुई। परिवारिक के लोगों के मुताबिक सांस लेने में दिक्कत हो रही थी। स्वजन उन्हें उपचार के लिए ले जा रहे थे कि रास्ते मे ही उनकी मौत हो गई। दोनों में से किसी की कोरोना जांच नही हुई थी। पति की तेरहवीं के दिन पत्नी कोरोना संक्रमित पत्नी की मौत

सिढ़पुरा निवासी सतीश चंद्र मिश्रा की बीती 25 अप्रैल को कोरोना से अलीगढ़ में मौत हो गई थी। 26 अप्रैल को सतीश का सिढ़पुरा में अंतिम संस्कार हुआ। 28 अप्रैल को सतीश की पत्नी साधना मिश्रा की हालत बिगड़ी। कोरोना जांच में वह पाजिटिव आईं। उनका पुत्र अन्नू मिश्रा उन्हें उपचार के लिए लखनऊ ले गया। एसपीजीआई में उनका उपचार चल रहा था। शुक्रवार को सुबह साधना की मौत हो गई। जब मौत की खबर सिढ़पुरा पहुंची, उस समय परिवार में सतीश की तेरहवीं संस्कार हो रहा था।

Edited By: Jagran