कासगंज,जागरण संवाददाता। श्रीकृष्ण जन्मोत्सव भव्य शोभायात्रा की अनुमति मांगने पहुंचे आयोजकों का तहसील प्रशासन से विवाद हो गया। आयोजक नारेबाजी करते हुए तहसील परिसर में ही धरने पर बैठ गए। एसडीएम पर भी आरोप लगाए। बाद में भाजपा नेताओं ने पहुंच कर मामला शांत किया।

श्रीकृष्ण शोभायात्रा समिति शहर में 23 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पर शोभायात्रा का आयोजन कर रही है। गुरुवार को शोभायात्रा की अनुमति के लिए हिदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष अनुपम यादव आयोजन समिति के सदस्यों के साथ एसडीएम के यहां पहुंचे। अनुमति न मिलने पर तहसील प्रशासन से विवाद हो गया। अनुपम ने आरोप लगाया कि एसडीएम ने अनुमित देने से इंकार करते हुए अभद्रता की और अपशब्दों का प्रयोग किया। विवाद की जानकारी मिलने पर आयोजन समिति के अन्य पदाधिकारी पहुंच गए। इन्होंने यहां पहुंच कर एसडीएम के खिलाफ नारेबाजी की। तहसील में धरना प्रदर्शन एवं हंगामे की सूचना पर सीओ सहावर डॉ. अभिषेक राहुल भी पहुंच गए। इधर भाजपा जिलाध्यक्ष पूर्णेंद्र सिंह सोलंकी के साथ जिला उपाध्यक्ष कौशल किशोर साहू भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने तहसील प्रशासन एवं आयोजकों से बात की। जिले के आला अधिकारियों से वार्ता कर समस्या निदान होने का आश्वासन मिलने पर धरना खत्म हुआ।

शहर में लग गए हैं होíडंग्स

शोभायात्रा के आयोजन को लेकर शहर में भी जगह-जगह पर होíडंग्स लग गए हैं। आयोजकों ने कार्ड भी छपवा दिए हैं। ऐसे में अनुमति न मिलने पर आयोजकों को भी चिता सता रही हैं। पूर्व में भी कभी इस यात्रा की कभी अनुमति नहीं दी गई है, लिहाजा नियम के तहत अनुमति नहीं दी जा सकती है। अनुमति देने के लिए अनावश्यक दबाव बनाने की मंशा से गलत आरोप लगाए जा रहे हैं।

ललित कुमार, एसडीएम सदर।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस