जागरण टीम, कासगंज: नामांकन वापसी के दिन रविवार को जिला पंचायत सदस्य पद के 12 दावेदारों ने अपने नामांकन वापस लिए हैं। प्रधान, बीडीसी एवं ग्राम पंचायत सदस्य के पदों पर भी बड़ी संख्या में नामांकन पत्रों की वापसी हुई। कई ब्लाकों में विभिन्न पदों पर दावेदारों का निर्विरोध निर्वाचन भी तय हुआ है।

कलक्ट्रेट परिसर में जिला पंचायत सदस्य पद के 12 दावेदारों ने नामांकन वापसी की है। वार्ड संख्या 23, सात, एवं चार में दो-दो दावेदारों ने अपने पर्चे वापस लिए हैं। वहीं वार्ड संख्या एक, पांच, छह, 10, 16, 17 में एक-एक दावेदार ने अपने नामांकन पर्चों को वापस लिया है। ब्लाक पटियाली में प्रधान पद के दो, बीडीसी के 16 एवं ग्राम सभा सदस्य के आठ नामांकन वापस हुए। ब्लाक सहावर में प्रधान के 91, बीडीसी के 34 और ग्राम सभा सदस्य के 25, ब्लाक सिढ़पुरा में ग्राम प्रधान के 68, बीडीसी के 11, ग्राम सभा सदस्य के 18, ब्लाक अमांपुर में प्रधान पद के 50, बीडीसी के 11, ग्रामसभा सदस्य के 14, ब्लाक गंजडुंडवारा में ग्राम प्रधान के 73, बीडीसी के 18, ब्लाक सोरों में प्रधान के 140, ब्लाक कासगंज में प्रधान के 119, बीडीसी के 33 नामांकन पत्र दावेदारों द्वारा वापस लिए गए हैं।

--------------------

चिन्ह आवंटन को पहुंचा दिव्यांग प्रत्याशी

गंजडुंडवारा ब्लाक के गांव नगला डामर से बीडीसी पद का दावेदार दिव्यांग शिवशंकर ने भी अपना नामांकन किया है। वह रविवार को चिन्ह आवंटन कराने ब्लाक परिसर पहुंचा। उससे बातचीत की गई तो उसे ने बताया कि वह दिव्यांग है तो क्या क्षेत्र की जनता की सेवा करना चाहता है।

--------------------

एआरओ की गलती से हो रहा था नामांकन निरस्त

ब्लाक सिढ़पुरा में क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के दावेदारों ने गलती से प्रधान पद के काउंटर पर अपना नामांकन दाखिल कर दिया। रविवार को जब दावेदार चिन्ह आवंटन के लिए पहुंची तब संबंधित एआरओ ने उसका पर्चा निरस्त होना बताया। जिस पर दावेदार रामप्यारी का दिव्यांग पुत्र भरत सिंह आक्रोशित हो गया। उसने शोर मचाना प्रारंभ कर दिया। तमाम लोग एकत्रित हो गए। अधिकारियों को भी यहां आना पड़ा। दिव्यांग भरत सिंह ने एसडीएम रवेंद्र कुमार को घटनाक्रम से अवगत कराया। जब इस मामले में एआरओ की गलती प्रदर्शित हुई इसके बाद अधिकारियों के कहने पर रामप्यारी को चिन्ह आवंटित किया गया।

--------------------------

इन पदों पर हुआ निर्विरोध निर्वाचन तय

ब्लाक पद संख्या

- कासगंज बीडीसी तीन

- सहावर बीडीसी दो

- अमांपुर बीडीसी तीन

- सोरों प्रधान एक

- सिढ़पुरा बीडीसी एक

Edited By: Jagran