जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : राजपुर में एसओ के किशोरी से छेड़खानी व प्रताड़ित करने के मामले में पीड़िता की मां ने डीजीपी व आइजी को पत्र भेजा है। निलंबित एसओ विनोद कुमार के गिरफ्तारी की मांग के साथ ही निष्पक्ष जांच की बात कही गई है।

30 अगस्त को राजपुर के एक गांव में किसान की बेटी से थाने में पूछताछ को उस समय एसओ रहे विनोद कुमार ने बुलाया था। वहां से घर लौटने के बाद किशोरी ने जहर खा लिया था। कानपुर के अस्पताल में कई दिन उसका इलाज चला। आरोप लगा था कि विनोद कुमार ने छेड़खानी की साथ ही उसके हाथ व शरीर पर नोचा है। मामले में दो सदस्यीय समिति बनी और दोषी पाए जाने पर निलंबन हुआ साथ ही उसी थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया गया। लेकिन तब से अभी तक आरोपित की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। अब पीड़िता की मां ने डीजीपी, आइजी को पत्र भेजा है। पत्र में उसने निलंबित एसओ को गिरफ्तारी करने की मांग की है। इसके अलावा आरोप लगाया है कि कुछ विभागीय लोग निलंबित एसओ की पैरवी कर रहे और चाह रहे कि इसमें वह उनके पक्ष में बयान दें। इसके साथ ही उसके 164 के बयान भी कराए जाएं। पीड़िता सरकारी के बाद निजी अस्पताल में इलाज कराने के बाद पूरी तरह से स्वस्थ है। इसके अलावा निलंबित एसओ से खुद के परिवार को खतरा भी बताया है। पीड़िता की मां ने बताया कि अगर कार्रवाई न हुई तो वह उच्चाधिकारियों से मुलाकात करेगी।

Edited By: Jagran