संवाद सूत्र, रूरा (कानपुर देहात):

सुभाषनगर मोहल्ले में गुरुवार देर रात सफाई करने सीवर टैंक में उतरे दो युवकों की दम घुटने से मौत हो गई। घटना के बाद गुस्साए परिजन ने हंगामा काटा। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर उन्हें शांत कराया।

राम स्वरूप चतुर्वेदी के मकान में गहोलिया गांव के शिवबालक कमल बच्चों को लेकर दो माह से किराये पर रह रहे हैं। मकान के सीवर टैंक की सफाई के लिए उन्होंने मोहल्ले के ही सानू वाल्मीकि (23) पुत्र गोलन व नरेंद्र वाल्मीकि (25) पुत्र छोटेलाल को बुलाया था। देर रात दोनों युवक सीढ़ी लगाकर टैंक में उतर गए। उधर घर के लोग अन्य काम में व्यस्त हो गए। काफी देर तक टैंक से कोई बाहर नहीं आया तो शिवबालक ने झांक कर देखा। अंदर दोनों को पड़ा देखकर वह सन्न रह गए। शिवबालक और उनके पुत्र विनोद ने युवकों के परिजन को जानकारी दी। इस पर परिजन में कोहराम मच गया। मौके पर पहुंचे सनोज, शिवा, भदई आदि ने रस्सी व सीढ़ी के सहारे शवों को बाहर निकाला। मृतकों के परिजन ने हंगामा शुरू कर दिया। काम कराने के लिए लाए लोगों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया। एसओ सैयद मोहम्मद अब्बास ने उन्हें किसी तरह शांत कराया। एसओ ने बताया कि विनोद को हिरासत में लिया है। नरेंद्र शादीशुदा था, उसकी 12 वर्ष की बेटी पिकी है जबकि सानू अविवाहित था। शुक्रवार सुबह एसडीएम आनंद कुमार सिंह और सीओ अकबरपुर, राजस्व निरीक्षक अखिलेश कुमार ने पहुंचकर पीड़ित परिजन को हर संभव मदद का भरोसा दिया।

अकबरपुर में शुक्रवार दोपहर पोस्टमार्टम में दोनों युवकों की सांस नली में टैंक का कीचड़ मिला है। डॉक्टर के मुताबिक मौत की दम घुटने से हुई है।

संबंधित खबर पेज तीन पर

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप