जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : डीपीआरओ ने डेरापुर ब्लॉक के आधा दर्जन गांव का औचक निरीक्षण किया। गांव में सफाई व्यवस्था दुरस्त न मिलने पर उन्होंने एडीओ पंचायत से नाराजगी जताई। दो सफाई कर्मियों को जहां निलंबित कर दिया गया वहीं एडीओ पंचायत का मई का वेतन रोक दिया गया।

डीपीआरओ अनिल कुमार ने डेरापुर ब्लाक के चिलौली, गहोवा, उमरी बुजुर्ग, गलुआपुर, जिगनिश सहित अन्य गांव की साफ सफाई व्यवस्था की हकीकत परखी। यहां पर गांव में नालियों में गंदी मिली जगह जगह कूड़े के ढेर मिलने पर उन्होंने एडीओ पंचायत अश्वनी कुमार से नाराजगी जताते हुए सफाई कर्मियों की टीम बनाकर गांव की साफ-सफाई व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त रखने के निर्देश दिए। वहीं गलुआपुर और उमरी बुजुर्ग में निरीक्षण के दौरान सफाई कर्मी अनुपस्थित मिले। निरीक्षण की सूचना मिलते ही यह तुरंत वहां पर पहुंच गए। उनके पास सफाई संबंधी कोई उपकरण नहीं मिला, लापरवाही और काम के प्रति शिथिलता बरतने के आरोप में जिला पंचायत राज अधिकारी ने निलंबित कर दिया गया। सात दिन के अंदर सफाई कराने के सख्त निर्देश दिए गए हैं।