संवाद सहयोगी, डेरापुर : कस्बे में बरात में नाचने को लेकर बरातियों व जनातियों के बीच विवाद हो गया। इसके बाद जनातियों ने बरातियों को जमकर पीटा और इसमें दूल्हे के भाई समेत तीन घायल हो गए। आरोप है कि दहेज का सामान भी तोड़ दिया। गुस्से में बरात बिना निकाह के ही वापस जाने लगी तो पुलिस ने समझाकर मामला शांत करा निकाह कराया। पुलिस ने 15 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

डेरापुर के वार्ड नंबर 10 प्रतापनगर निवासी राहुफ अहमद ने बताया कि उसकी बहन निशा की शादी लालपुर अकबरपुर निवासी रईस के साथ तय हुई थी। रईस सोमवार शाम बरात संग आए। इसके बाद जनवासे से बराती नाचते हुए आ रहे थे। जनातियों संग मौजूद मुहल्ले का ही फैजान लोगों के बीच में घुसकर नाचने लगा। इस पर बरातियों से कहासुनी होने लगी। इसके बाद फैजान संग अन्य लोगों ने बरातियों को मारना शुरू कर दिया इससे अफरातफरी मच गई। पिटाई से दूल्हे का भाई शोएब, कल्लू व एक अन्य घायल हो गए। उन्हें अस्पताल भेजा गया। वहीं आरोप है कि हमलावरों ने दहेज के सामान को तोड़ फोड़ दिया। पुलिस पहुंची तो आरोपित वहां से फरार हो गए। इधर, विवाद से बरात बिना शादी के वापस लौटने की स्थिति बन गई। पुलिस ने वर पक्ष के लोगों को समझाकर अपनी मौजूदगी में निकाह करवाया। दुल्हन के भाई रहूफ की तहरीर पर पुलिस ने शाहीम, जीशान, ईशतान, फैजान समेत 15 लोगों के विरुद्ध जान से मारने की नियत से हमला करना एवं बलवा करना व अन्य धारा में मुकदमा दर्ज किया है। थाना प्रभारी अखिलेश जायसवाल ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर आरोपितों की तलाश की जा रही है।

Edited By: Jagran