संवाद सहयोगी, सिकंदरा : सट्टी क्षेत्र निवासी महिला की संदिग्ध हालात में गुजरात सूरत में मौत हो गई। पति शव यहां लेकर पहुंचा तो मायके पक्ष ने हत्या का आरोप लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। पहले थाने का घेराव किया बाद में मुगल रोड पर शव रखकर जाम लगा दिया। पुलिस ने किसी तरह से उन्हें शांत करा समझाया। पति समेत छह ससुरालियों पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

सट्टी के गिरधरपुर गांव निवासी मुकेश कुमार गुजरात के सूरत में एक फैक्ट्री में काम करते हैं। उनकी पत्नी 28 वर्षीय रिकी उनके साथ रह रही थी। दो दिन पहले रिकी की वहां पर संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मुकेश मंगलवार शाम को यहां शव लेकर पहुंचा तो मायके राजपुर से रिकी के पिता रामलखन व अन्य स्वजन पहुंच गए। उन लोगों ने दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया। इसके बाद सभी सट्टी थाने पहुंच गए और हंगामा शुरू कर दिया। मुगल रोड पर शव रखकर जाम लगा दिया। इससे करीब 20 मिनट तक यातायात बाधित रहा। पुलिस ने किसी तरह से उन्हें समझाकर सड़क से हटाया। रामलखन ने बताया कि 2019 में दहेज का मुकदमा चल रहा था, लेकिन समझौता होने व सही से रहने पर उन्होंने बेटी को ससुराल भेज दिया था। उसकी हत्या की गई है। वहीं मुकेश ने बताया कि आपसी विवाद में रिकी ने रस्सी का फंदा लगाकर जान दे दी थी। उसका वहां पर पोस्टमार्टम भी हुआ है। अगर आत्महत्या न होती तो पुलिस उस पर कार्रवाई जरूर करती। थाना प्रभारी सट्टी महेंद्र सिंह ने बताया कि पति व उसके गांव के ही हेमंत समेत छह ससुरालियों पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। यहां पर भी पोस्टमार्टम होगा और रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई होगी।

Edited By: Jagran