संवाद सहयोगी, रसूलाबाद : अकबरपुर में हुई मार्ग दुर्घटना में जान गंवाने वाले दंपती व युवक के शव उनके घर पहुंचे तो कोहराम मच गया। एक तरफ जहां दो बच्चों के सिर से मां पिता का साया छीन गया तो दूसरी ओर नई जिदगी की शुरूआत करने से पहले युवक की मौत हो गई।

अकबरपुर के बाढ़ापुर में बुधवार को बाइक भिड़ंत में नैला गांव में ननिहाल में रह रहे रितु यादव व रानीपुर निवासी सुमित व उनकी पत्नी सपना की मौत हो गई थी। गुरुवार को रितु यादव का शव नैला गांव में पहुंचा। यही पर उनकी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मां सुषमा भी रहती हैं। उनका रोकर बुरा हाल हो गया। वहीं बहन वर्षा भी खुद को नहीं संभाल पा रही थी। घायल पंकज यादव की बहन सीमा ने बताया कि एक जनवरी को रितु यादव व बहन वर्षा की गोदभराई एक साथ हुई थी। चार मई को रितु का विवाह होना था वहीं बहन वर्षा का विवाह सिकंदरपुर गुरसहायगंज निवासी नेवी जवान अवनीश के साथ तय है। इस घटना से पूरा परिवार सदमे में है। यहां ब्लॉक प्रमुख कुलदीप सिंह यादव, सपा विधानसभा अध्यक्ष नत्थू सिंह, सपा प्रदेश सचिव हाजी फैजान खान, भाकियू नेता रणवीर सिंह यादव, पूर्व ब्लॉक प्रमुख सुरेश यादव, शिव सिंह यादव, आलोक रतन यादव व प्रकाश यादव ने पहुंचकर दुखी परिवार को सांत्वना दी। उधर, दंपती का शव गांव पहुंचा तो मासूम बेटे आठ वर्ष का बेटा सोहेल व छह वर्ष का साहिल का रोकर बुरा हाल हो गया। बच्चों को रोता देख सभी अपने आंसू थाम न सके। सपना के भाई विकास का कहना था कि पता नहीं था कि अस्पताल से लौटते समय ऐसा हो जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप