संवाद सूत्र, शिवली: मंगलवार को मैथा तहसील में जिला स्तरीय संपूर्ण समाधान दिवस में डीएम व एसपी ने फरियादें सुनीं। सरैंया व गजा निवादा गांव के ग्रामीणों ने ग्राम प्रधानों पर गुट बंदी के चलते इज्जतघर आवंटन में मुंह देखी करने का आरोप लगाया। इस पर डीएम ने नाराजगी जताते हुए एसडीएम को वंचित परिवारों का सत्यापन कर कार्रवाई का निर्देश दिया।

डीएम राकेश कुमार सिंह व एसपी राधेश्याम की मौजूदगी में सुबह दस बजे संपूर्ण समाधान दिवस शुरू हुआ। यहां सरैंया गांव के राम निवास सिंह, शिवशंकर, राम प्रकाश, अमोल सिंह, रजोल सिंह व जय सिंह तथा भेवान ग्राम पंचायत के मजरा गजानिवादा गांव के राजकुमार, शोभा, सुरेश, राजेंद्र, हसन व द्वारिका ने डीएम को बताया कि ग्राम प्रधान उनसे गुट बंदी मानते हैं। इसकी के चलते उन्हें पात्र होते हुए भी इज्जतघर आवंटित नहीं किया जा रहा है। स्वच्छ भारत मिशन अभियान में लापरवाही पर डीएम खासे नाराज हुए। उन्होंने एसडीएम मैथा राम शिरोमणि को सत्यापन कराकर वंचित परिवारों को इज्जतघर दिलाने को कहा। गांधी नगर शिवली निवासी मेडिकल स्टोर संचालक सुनील मिश्र की पत्नी गीता मिश्रा ने एसपी को बताया कि फरवरी में उसके मकान का ताला तोड़ लाखों रुपयों की नगदी तथा आभूषण चोरी हो गए थे। पुलिस घटना का खुलासा नहीं कर सही है। इस पर एसपी ने शिवली कोतवाल चन्द्रशेखर द्विवेदी शीघ्र घटना का अनावरण करने को कहा। मदारपुर के दिनेश ने मैथा गेहूं क्रय केंद्र के प्रभारी पर प्रति क्विटल गेहूं खरीद पर 60 रुपए उगाही का आरोप लगाया। डीएम ने तहसीलदार अजीत कुमार सिंह को जांच दी। लायर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुधीर सिंह भदौरिया व अन्य ने 3 वर्ष से अधिक समय से कार्यरत लेखपाल विद्या सागर मिश्र, अवधेश कुमार गुप्त, विकास सचान, धर्मेन्द्र सिंह व ब्रजेश कुमार को हटाए जाने की मांग की। डीएम ने एसडीएम से आख्या तलब की है। दिवस में कुल 186 शिकायतें दर्ज की गई। जिसमें 11 का मौके पर निस्तारण हो सका। यहां सीएमओ डॉ. हीरा सिंह, उप कृषि निदेशक विनोद कुमार यादव, सीओ संदीप सिंह, एसडीओ सौरभ मिश्रा, ईओ एम लाल गौतम आदि रहे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran