जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : जिले के मलासा के जलालपुर व रूरा के अमरसिंह का पुरवा गांव में फैले बुखार के बाद बुधवार को स्वास्थ्य विभाग की टीमें पहुंचीं। यहां पर दवाएं देने के साथ ही जांच की गई।

जलालपुर गांव में सीएचसी देवीपुर के चिकित्साधिकारी डा. जयनीत कटियार, फार्मासिस्ट प्रशांत मौर्या, हेल्थ सुपरवाइजर सुरेश कुमार, अजयकुमार की टीम ने गांव पहुंचकर मुश्ताक, नवीन, मुबीन, आरिफ, अरमान, रिहान, शिवशंकर आदि 12 से अधिक मरीजों का उपचार कर दवाएं बांटीं और बुखार पीड़ित नवीन व रेहान के खून की जांच के लिए स्लाइड बनाई। विभाग की टीम ने गांव की नालियों में एंटी लार्वा दवा का छिड़काव कराया गया। डा. विकास कुमार ने बताया कि जलालपुर गांव में विभाग की टीम भेजकर दवा दी गई है। उधर, रूरा के धनीरामपुर व इसके मजरा अमर सिंह का पुरवा गांव में स्वास्थ्य टीम ने कैंप लगाकर 60 बुखार पीड़ितों को घर-घर जाकर दवा वितरित की। सीएचसी के डाक्टर सतीश गुप्ता के अलावा धीरेंद्र शुक्ला, मधुकर पाल व आकाश यादव ने गांव में भ्रमण कर घर-घर दस्तक देकर लोगों से बुखार के बाबत जानकारी ली और पीड़ित व्यक्ति मिलने पर जरूरी दवाएं देने के साथ ही कई दिनों से बुखार की चपेट में चल रहे महिला और पुरुषों का रक्त संकलित कर स्लाइड बनाई। डाक्टर ने बताया कि कुल 60 मरीजों को बुखार की दवा दी गई जबकि 30 स्लाइड बनाई गई है। टीम के लोगों ने बताया कि ग्रामीणों को साफ सफाई से रहने व रात में सोते वक्त मच्छरों से बचाव के लिए मच्छरदानी का जरूर प्रयोग करते रहने के लिए जागरूक किया।

Edited By: Jagran