संवाद सहयोगी, रसूलाबाद : क्षेत्र के अलग-अलग गांव में हुई मारपीट की घटनाओं में दो महिलाओं समेत चार लोग घायल हो गए। पीड़ि़त पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

बसगड़ा निवासी काजल ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि सोमवार रात जेठ रमेश उसके घर घुस आया। वह बच्चों के साथ घर पर अकेली रहती है। पति श्यामबाबू गुजरात में प्राइवेट नौकरी करते है। जेठ मौका पाकर उसके साथ छेड़खानी करने लगा विरोध करने पर उसे मारा-पीटा। गर्भवती होने के कारण मारपीट से उसके पेट में असहनीय दर्द है। जेठ के लड़के पंकज व दीपक दामाद गोलू भी उसे अक्सर मारपीट करते हैं। कंधिया असालतगंज निवासी आबिद अली ने पुलिस को बताया कि उसके मकान की जमीन पर पड़ोसी शमशेर व उनका पुत्र तालिब जबरन कब्जा कर मवेशी बांधता है। शिकायत की तो पुलिस ने आकर उसके खूंटे हटवा दिए, जिस पर शमशेर की पत्नी उक्कन व बेटी ने पुलिस के सामने ही उसको अपशब्द कहे और उसके पुत्रों शमशाद, नौशाद व दिलशाद को फर्जी बलात्कार के मुकदमे में फंसाकर जेल भिजवा देने की धमकी दी। वहीं धर्मूपुर रतनपुर निवासी रचना देवी ने पुलिस को बताया नौ सितंबर शाम गांव के त्रिभुवन सिंह, उनकी मां कमला देवी उसे अपशब्द कहने लगे। विरोध करने पर मारा पीटा, जिससे वह घायल हो गई है। थाना प्रभारी प्रमोद कुमार शुक्ला ने मुकदमा दर्ज किया गया है।

Edited By: Jagran