संवाद सहयोगी, डेरापुर : बड़ागांव भिक्खी में साधन सहकारी समिति क्रय केंद्र पर गुरुवार को पहले गेहूं की तौल कराने को लेकर विवाद के बाद किसान आपास में भिड़ गए। एसडीएम के निर्देश पर पहुंचे तहसीलदार ने किसानों को समझाकर शांत कराया। इसके बाद टोकन के आधार पर तौल शुरू कराई।

मूल्य समर्थन योजना के तहत खुले सरकारी क्रय केंद्रों पर गेहूं की खरीद 15 जून तक होनी है। केवल दो दिन बाकी होने को लेकर क्रय केंद्रों पर मारामारी की स्थिति बन रही है। गुरुवार को बड़ागांव भिक्खी क्रय केंद्र पर सुबह से ट्रैक्टर ट्राली पर गेहूं लेकर पहुंचे किसान पहले तौल कराने को लेकर आपस में भिड़ गए। केंद्र प्रभारी अनुज कुमार ने किसानों को समझाने की कोशिश की लेकिन गलुवापुर से आया एक किसान अपना गेहूं पहले तौलने को बिफर गए। इसको लेकर नोकझोक शुरू हो गई। तनातनी की स्थिति बनने पर किसी ने एसडीएम को फोन पर अवगत कराया। एसडीएम एआर फारुकी ने तहसीलदार रामशंकर को भेजा। क्रय केंद्र पहुंचे तहसीलदार ने समझाकर किसानों को शांत किया। इसके बाद उदयनारायण, धर्मपाल, रामनारायण, श्याम बिहारी, विपिन कुमार, सुमित बाजपेई, छम्मू मिश्र व रिपुसूदन के टोकन के अनुसार क्रमिक तौलने का निर्देश क्रय केंद्र प्रभारी को दिया। तहसीलदार ने बताया कि किसान केंद्र प्रभारी पर दबाव बनाकर पहले तौल कराना चाहते थे। इसको लेकर विवाद की स्थिति बनी थी, टोकन के आधार पर तौल शुरू कराई गई।

Posted By: Jagran