संवाद सूत्र रूरा: गहलो क्षेत्र के गम्भीरपुर गांव में मूलभूत सुविधाओं से वंचित ग्रामीणों में नाराजगी व्याप्त है। हालात यह हैं कि कच्चे और कीचड़युक्त रास्तों से लोगों का पैदल निकलना दूभर है। इस कारण बुधवार को गुस्साये लोगों ने इकट्ठा होकर सड़क बनवाये जाने की मांग करते हुए नारे बाजी कर हंगामा काटा।

गहलो जर्बी गांव का मजरा गम्भीरपुर में करीब 600 लोगों की आबादी है। तथा गहलो मुख्य मार्ग से गांव की दूरी करीब ढाई किमी है। जिसे आज तक न बनवाये जाने से पूरे मार्ग में बड़े बड़े गड्ढे हो गये हैं। मामूली बारिश में रास्ता जलमग्न हो जाता है। ऐसे में गाव के लोगों को पानी, कीचड़ में घुसकर निकलने के लिए मजबूर होना पड़ता है। वहीं खराब रास्तों के कारण गांव के बाहर पढ़ने के लिए स्कुल जाते बच्चों की पढ़ाई बंद हो जाती है। गांव के भीखाराम, रामस्वरूप, लालाराम, राम प्रकाश, विनोद कुमार ने नाराजगी जाहिर करते हुए बताया कि 15 वर्ष पूर्व गांव में विद्यत पोल गढ़े थे। जिनमें आज तक करंट नहीं दौड़ पाया है। जिसके चलते मोबाइल चार्जिंग आदि के लिए दूसरे गांव जाना पड़ता है। वहीं खराब रास्ता के चलते बीमारी व आकस्मिक सेवा की सरकारी गाड़ी भी नहीं पहुंच पाती है। इसके अलावा वैवाहिक समारोह केवल मई जून माह में इस लिए होते हैं कि इस दौरान खेतों से फैसले कट जाती हैं तब लोग वाहन खेतों से निकाल कर गांव तक आ जाते हैं। ग्रामीणों का कहना है विधानसभा चुनाव के दौरान विधायक प्रतिभा शुक्ला ने चुनाव जीतने के एक माह बाद ही सड़क पर काम शुरू कराने का आश्वासन दिया था, लेकिन एक वर्ष बीतने के बावजूद सुधि नहीं ली गई है। गाव के बुजुर्गों ने बताया कि अब सड़क न बनी तो सभी गांव की लोग होने वाले लोकसभा चुनाव में मतदान का बहिष्कार करेंगे। उपजिलाधिकारी मैथा राम शिरोमणि ने बताया कि गांव की समस्या को उच्चाधिकारियों से अवगत कराकर समाधान का प्रयास किया जायेगा।

Posted By: Jagran