चित्रकूट, जेएनएन। चित्रकूट के मारकुंडी थानांतर्गत भेड़ा गांव स्थित तालाब में मछलियों के शिकार पर पुलिस ने मंगलवार को छापा मारकर गांव के संतोष पुत्र भैरम को पकड़ा जबकि बाकी भाग निकले। उसे मारकुंडी पुलिस पकड़ कर थाने ले गई। रात में उसकी जमकर पिटाई की गई। बुधवार को हालत बिगडऩे पर दोपहर करीब 12.30 बजे मानिकपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पुलिसकर्मियों ने भर्ती कराया।

उसकी नाक व मुंह से खून निकल रहा था। पीडि़त के चाचा राज करन का आरोप है कि पुलिस ने छोडऩे के लिए रुपये मांगे लेकिन नहीं देने पर मारपीट की। कई बार गुजारिश के बाद भी पुलिस ने अनसुनी कर दी। अक्सर ग्रामीणों के साथ पुलिस ऐसा दुव्र्यवहार करती है। प्रभारी चिकित्सा अधीक्षक डॉ दिलीप पटेल ने बताया कि संभवत: गर्मी के कारण हालत बिगड़ी है। जांच की जा रही है। रिपोर्ट आने पर सच्चाई सामने आएगी। वहीं, मारकुंडी थाना प्रभारी मोहम्मद अकरम ने बताया कि मछली का शिकार करने पर उसे बुधवार रात को थाने लाया गया था। मारपीट नहीं की गई। रात में भोजन नहीं करने और गर्मी की वजह से वह बीमार पड़ा है। परिजनों के आरोप बेबुनियाद हैं। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप