इटावा, जेएनएन। ग्राम कर्वा खुर्द के समीप नहर में अपने दोस्तों के साथ नहाने आया 18 वर्षीय युवक डूब गया। कई घंटे की तलाश के बाद भी उसका पता नहीं चल सका है। हादसे की जानकारी मिलते ही एसडीएम एवं सीओ मौके पर पहुंच गए। 

इस तरह हुआ हादसा: ग्राम सरैया निवासी मेंहदी हसन ने बताया कि उनका तीसरा बेटा 18 वर्षीय दिलशाद एक सप्ताह पहले अहमदाबाद से घर आया था। रविवार सुबह दोस्त उसे नहर में नहाने के लिए ग्राम कर्वा खुर्द के समीप ऊमरसेंड़ा नहर पर ले आए। नहाने के दौरान दिलशाद नहर के गहरे पानी में डूबने लगा। दोस्तों ने दिलशाद को बचाने का प्रयास किया, लेकिन वे असफल रहे। जैसे ही दिलशाद के डूबने की जानकारी उसके स्वजन को मिली तो सारा गांव स्वजन के साथ घटना स्थल की ओर दौड़ पड़ा। 

जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंचे एसडीएम हेम सिंह, सीओ विजय सिंह, थाना प्रभारी बचन सिंह, तहसीलदार हरिश्चंद्र ने मेंहदी हसन से बात कर मौके पर बकेवर क्षेत्र से गोताखोरों को बुलाकर ग्रामीणों की मदद से नहर में तलाश शुरू करा दी। लेकिन कई घंटे की तलाश के बाद भी दिलशाद का कहीं भी पता न चल सका। मां शहनाज ने बताया कि दिलशाद पूर्वाह्न 11 बजे घर से अपने दोस्तों के साथ जाने की कहकर निकला था। एसडीएम ने बताया कि उन्होंने सिंचाई विभाग के उच्चाधिकारियों से बात कर नहर के पानी का स्तर कम करवा दिया है। दो जगह गोताखोरों द्वारा जाल डलवा कर दिलशाद की तलाश कराई जा रही है। 

जाम लगा रहे ग्रामीणों को खदेड़ा: दिलशाद की तलाश में देरी होता देख आसपास के ग्रामीणों तथा सरैया के ग्रामवासियों ने भरथना-बिधूना मार्ग बाहरपुरा नहर पुल के समीप बीच सड़क पर पत्थर आदि डालकर जाम लगाने का प्रयास किया। उसी समय मौके पर मौजूद पुलिस बल ने लाठियां जमीन पर पटक कर जाम लगा रहे लोगों को खदेड़ दिया। खदेडऩे के दौरान जाम लगा रहे लोगों की मौके पर छूटी बाइक व साइकिलों को पहुंचाया गया। 

Edited By: Shaswat Gupta