कानपुर, जेएनएन। नारामऊ के पास नया मकान बनवाने के बाद परिवार गृह प्रवेश की तैयारियों में जुटा था, जवान बेटा पूजन के लिए दूध लेने निकला था। अचानक उसकी मौत की खबर आते ही परिवार में कोहराम मच गया। गृह प्रवेश की खुशियों के बीच परिवार में मातम छा गया।

पांडु नगर निवासी श्रीप्रकाश ने बताया कि 22 वर्षीय पुत्र आयुष काकादेव में एक दूध कंपनी के आउटलेट पर काम करता था। उन्होंने कुछ समय पहले नारामऊ में जगह खरीदकर मकान बनवाया था। बेटे ने भी अपनी कमाई से मकान बनवाने में मदद की थी। मंगलवार को नए मकान में गृह प्रवेश के लिए पूजन कार्यक्रम था। परिवार के सभी लोग पूजन की तैयारियों में लगे थे। इस बीच आयुष पूजन के लिए दूध लेने निकला था।

नारामऊ क्रासिंग पर रेलवे लाइन क्रास करते समय वह ट्रेन की चपेट में आ गया। रेलवे लाइन पर भीड़ एकत्र हो गई और पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस उसे अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। काफी देर तक आयुष नहीं लौटा परिजन उसे देखने बाहर निकल पड़े। आयुष की मौत की जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। गृह प्रवेश की खुशियों की जगह परिवार में मातम छा गया और मां नीलम का रो-रोकर बुरा हाल है।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप