इटावा, जेएनएन। जहां एक आेर सरकार महिला सुरक्षा के प्रति प्रतिबद्ध है वहीं, प्रदेश में रोज महिलाओं और बच्चियों के प्रति अापराधिक वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। मिशन शक्ति और वीमेन हेल्पलाइन जैसी सुविधाओं को धता बताते हुए अपराधी रोज किसी  न किसी महिला या किशोरी को अमानवीयता का शिकार बनाते हैं। इस बार यह खबर सामने आई है सूबे के इटावा जिले से जहां एक युवक दिन दहाड़े पहले तो किशोरी को खींचकर ले जाता है और फिर उसके हाथ-पैर बांधकर उसे कमरे में बंधक बना लेता है। विचलित कर देने वाली इस घटना में किशोरी को ले जाते समय लोगों ने जब युवक को जब देखा तो शोर मचाया, लेकिन तब तक अपराधी ने इस निंदनीय कृत्य को अंजाम दे दिया था। पूरे प्रकरण की जानकारी जब किशोरी के गांव पहुंची तो सनसनी फैल गई। पीड़ित परिवार के साथ गांव के लोग बड़ी संख्या में थाने में पहुंचे और आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। 

ये है पूरा मामला: 17 वर्षीय किशोरी दोपहर में दूसरे घर से पानी के पाइप को मांगने गई थी। लौटते समय पहले से ही घात लगाए गोनू निवासी ग्राम नगला जुला उसको जबरन अपने घर में खींच ले गया और कमरे में उसके हाथ-पैर व मुंह को कपड़े से बांध दिया। यही नहीं इसके बाद वह घर में ताला लगाकर भाग गया। काफी देर तक किशोरी जब अपने घर नहीं पहुंची तो उसकी तलाश घर वालों ने शुरू की। जानकारी होने पर उन्होंने गोनू के घर जाकर देखा तो उनके होश उड़ गए। बेटी को इस हालत में स्वजन आग बबूला हो गए और आरोपित के खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई की मांग की। 

यह भी पढें: इटावा में बढ़ रहा महिलाओं के प्रति अपराध, बेखौफ बदमाशों ने महिला पर फेंका तेजाब, मदद को लगाती रही गुहार

किशोरी के पिता ने थाने पहुंचकर नामजद आरोपित के विरुद्ध तहरीर दी। पिता ने आशंका जताई है कि आरोपित युवक उसकी पुत्री के साथ किसी अप्रिय घटना को अंजाम देने वाला था। 

इनका ये है कहना: प्रभारी निरीक्षक नवरत्न गौतम ने बताया है कि तहरीर के आधार पर संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर आरोपित की तलाश की जा रही है। 

Edited By: Shaswat Gupta