मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

कानपुर, जेएनएन। मकनपुर के युवक ने शादीशुदा होने की बात छिपाकर पहले बिल्हौर की युवती से निकाह किया, फिर छह माह बाद पहली पत्नी के दबाव में आकर तीन तलाक दे दिया और जाते समय धमकी दी कि अगर जेल भिजवाया तो छूटने के बाद हत्या करवा दूंगा। पीडि़ता के प्रार्थनापत्र पर एसएसपी दफ्तर में मौजूद एसपी ट्रैफिक सुशील कुमार ने मुकदमा दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

बिल्हौर के उत्तरीपूरा क्षेत्र की रहने वाली युवती ने बताया कि कॉलेज आने जाने के दौरान उसकी मुलाकात मकनपुर निवासी युवक से हुई थी। आरोपित पहले से शादीशुदा था। झूठ बोलकर उसने फरवरी में निकाह कर लिया और मकनपुर में ही कमरा किराये पर लेकर रहने लगा। कुछ दिन बाद पति के पहले से शादीशुदा होने की जानकारी हुई तो परिवारीजन से शिकायत की चेतावनी दी। इस पर पति ने मारपीट की और कमरे में बंद करके रखा। मई 2019 में उसका गर्भपात करा दिया।

इसी बीच आरोपित की पहली पत्नी व घर वालों को उसकी दूसरी शादी की बात पता लगी तो उन्होंने आकर धमकी दी। युवती का आरोप है कि 22 अगस्त को पति, पहली पत्नी, पिता व मां के साथ आया और तीन तलाक कहकर घर से निकाल दिया। विरोध पर धमकी देकर कहा कि अगर पुलिस से शिकायत की तो जान से मार दूंगा। बिल्हौर सीओ देवेंद्र मिश्रा ने बताया कि तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर आरोपितों पर कार्रवाई की जाएगी।

दूसरा निकाह करने के लिए दिया तीन तलाक

दूसरा निकाह करने के लिए बजरिया में एक स्क्रैप व्यापारी ने पत्नी को तीन तलाक दे दिया। पत्नी ने बजरिया थाने में मुस्लिम महिला विवाह अधिकारों की सुरक्षा अधिनियम और घरेलू ङ्क्षहसा के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। कर्नलगंज में किराए पर रह रही अनवरी बेगम के मुताबिक उनकी शादी मुन्नापुरवा निवासी मो. सलीम से वर्ष 1982 में हुई थी। शादी के बाद उनके चार बेटे और दो बेटियां पैदा हुईं। पांच वर्ष पूर्व पति ने बच्चों सहित घर से निकाल दिया। तबसे वह किराए पर रह रही हैं।

आरोप है कि 18 अगस्त को पति घर आए और स्टांप पेपर पर दस्तखत कराने लगे। इन्कार पर एक बार में तीन तलाक बोल दिया। अनवरी का आरोप है कि पति ने दूसरी शादी करने को तलाक दिया है। बजरिया थाना प्रभारी राममूर्ति यादव ने बताया कि रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। जांच कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप