कानपुर, जागरण संवाददाता। जूही में रहने वाले एक युवक ने बीवी की इज्जत के लिए दोस्त का कत्ल कर दिया। पत्नी पर की गई बातें उसे बर्दाश्त नहीं हुईं और बहाने से दोस्त को श्मशान घाट ले जाकर गोली मारकर मौत के घाट उतारने के बाद आधी रात शव गंगा नदी में बहा दिया। भैरव घाट पर गोली चलने की आवाज सुनकर पहुंचे लोगों ने आरोपित युवक को पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार करके घटना की छानबीन शुरू की है।

एसीपी कर्नलगंज त्रिपुरारी पांडे ने बताया कि जूही निवासी विपिन निगम का बैग बनाने का कारखाना है, जो वह अपने ही मकान पर संचालित करता है। कारखाने में सुल्तानपुर के मेहरुबा गांव निवासी सुनील सिंह का भांजा शुभम सिंह भी बैग बनाने का काम करता था। सुनील से विपिन की गहरी दोस्ती है और उसका कारखाने में भांजे के पास आना रहता था। इसलिए वह अक्सर विपिन के घर भी जाने लगा था। शनिवार शाम भी विपिन से मिलने सुनील आया था और दोनों ने खूब शराब पी थी। इस बीच बीवी को लेकर कही गई बात से नाराज विपिन बहाने से सुनील को श्मशान घाट पर ले गया, जहां उसे गोली मार दी। रात में गोली की आवाज सुनकर कड़ाके की ठंड में आसपास के लोग पहुंचे तबतक विपिन ने सुनील की हत्या के बाद शव गंगा में फेंक दिया। लोगों ने विपिन को पकड़कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर आई पुलिस उसे पकड़कर थाने ले गई।

पुलिस की पूछताछ में विपिन ने आरोप लगाते हुए बताया कि सुनील अक्सर पत्नी के बारे में अश्लील टिप्पणी किया करता था। इसे लेकर उसने कई बार मना किया था लेकिन वह नहीं मानता था। शनिवार की रात भी शराब पीने के बाद सुनील पत्नी को लेकर अश्लील टिप्पणियां कर रहा था, इससे उसे बहुत गुस्सा आया। भैरव जी के दर्शन कराने के बहाने रात करीब 3:30 बजे वह सुनील को लेकर श्मशान घाट पहुंचा और उसके सिर से सटाकर गोली मार दी। उसका शव गंगा नदी में फेंक दिया। एसीपी त्रिपुरारी पांडेय के मुताबिक गोली चलने की आवाज सुनकर घाट पर मौजूद लोगों ने विपिन को पकड़कर पुलिस के हवाले किया है। सुनील का शव भी बाहर निकाला गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Edited By: Abhishek Agnihotri