कानपुर, जेएनएन। देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जगायी गई योग की अलख से भारत एक बार फिर 14 प्रमुख देशों के बीच योग गुरु साबित हुआ है। ऑनलाइन विश्व योगासन प्रतियोगिता में सौ से ज्यादा प्रतियोगियों के बीच में कानपुर के अर्णव समेत 14 स्वर्ण पदक मिले हैं। इसके साथ ही ब्राजील, मालावी, अर्जेंटीना, तुर्की, ईरान के प्रतिभागियों ने भी पदक हासिल किए हैं।

ऑनलाइन हुई योगासन प्रतियोगिता

विश्व योग फेडरेशन द्वारा 21 से 24 मई के बीच ऑनलाइन योगासन प्रतियोगिता संपन्न कराई गई थी। इसमें 14 देशों के 100 से ज्यादा प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था। सीनियर, जूनियर, कैडेट, सब जूनियर, व सुपर सीनियर वर्ग में अलग अलग आयोजित प्रतियोगिता में उन्हीं ने प्रतिभाग किया, जो योग एसोसिएशन ऑफ इंडिया की राष्ट्रीय प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीते थे। प्रतियोगिता का आयोजन टूर्नामेंट आर्गेनाजिंग सेक्रेटरी अभिनव मिश्रा ने किया था। शुक्रवार देर रात विश्व योग फेडरेशन की ओर से ऑनलाइन योगासन में स्वर्ण पदक जीतने वाले प्रतिभागियों की सूची जारी की गई।

चार वर्षीय अर्णव ने जमायी धाक

इस प्रतियोगिता में देश-दुनिया में भारत ने अपनी धाक जमाई है। कानपुर के अर्णव समेत 13 प्रतिभागियों ने स्वर्ण पदक हासिल किए हैं। भारत के अलावा ब्राजील, मालावी, अर्जेंटीना, तुर्की, ईरान ने नाम भी स्वर्ण पदक झटके हैं। विश्व योग फेडरेशन के महासचिव शोभित पांडेय ने बताया कि स्वर्ण पदक जीतने वालों में सभी कानपुर के रहने वाले हैं। इसमें चार वर्षीय अर्णव के साथ नैतिक सचान, शिवन्या सिंह, अगम गुप्ता, श्रेयांश झा, जानवी मिश्रा, शिवांशु पटेल, वर्धन दुग्गल, शिवम मिश्रा, शोभिता दुबे, अमित कुमार, रामा दीक्षित व राकेश चंद्र सिंह ने स्वर्ण पदक जीते हैं।

Posted By: Abhishek Agnihotri

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस