कानपुर, जागरण संवाददाता। श्री जैन श्वेतांबर मूर्तिपूजक संघ की ओर से आयोजित पंचानिक महोत्सव के अंतिम दिन भगवान के ध्वजा यात्रा धूमधाम से निकाली गई। महिला अनुयायियों ने सिर पर कलश धारण करके कमला टावर स्थित जैन कांच वाले मंदिर से बिरहाना रोड स्थित जैन मंदिर तक शोभा यात्रा निकाली।

रविवार सुबह कमला टावर स्थित जैन कांच वाले मंदिर से भगवान की परंपरागत ध्वजा को लेकर जैन समाज की महिलाएं विधि विधान से पूजन अर्चन के बाद बिरहाना रोड स्थित कमला टावर मंदिर के लिए निकली। शोभा यात्रा मार्ग में बैंड बाजे की धुन पर भजनों की प्रस्तुति और सिर पर कलश धारण किए हुए परंपरागत वेशभूषा में महिला अनुयायियों ने वातावरण को भक्ति में बना दिया।

बिरहाना रोड स्थित प्राचीन जैन मंदिर के 51 वर्ष पूरे होने पर भव्य शोभायात्रा और मंदिर में परंपरागत विधि से पूजन अर्चन का आयोजन किया गया। शोभायात्रा में जैन समाज की परम पूज्य साध्वी भव्य प्रज्ञा भक्तों पर कृपा की बारिश करते हुए चल रही थीं। शोभायात्रा जैसे ही जैन मंदिर बिरहाना रोड पहुंची अनुयायियों ने आरती पूजन लिए हुए महिला मंडल का स्वागत किया।

मंदिर पहुंचने पर वेदी पूजन और नव पूजन का आयोजन विधिवत रूप से किया गया। श्री जैन श्वेतांबर मूर्तिपूजक संघ के अध्यक्ष सुबोध शाह ने बताया कि 12:39 के शुभ मुहूर्त पर कांच वाले मंदिर से लाई गई ध्वजा को जैन मंदिर बिरहाना रोड पर फहराया जाएगा। जैन मंत्रोच्चारण के बीच समाज के पूजन अर्चन संपन्न किए जाएंगे इसके साथ ही पंचानिका का महोत्सव का समापन होगा।

Edited By: Abhishek Agnihotri