कानपुर, जेएनएन। पीरोड में एक हफ्ते में दो जगह डाट नाला बैठने से सड़क धंस गई है। इसके चलते यातायात प्रभावित हो रहा है। इसको लेकर जनता में आक्रोश है। खतरनाक हो गए जर्जर डाट नाला बदलने को लेकर पार्षद ने प्रस्ताव दिया है, ताकि सड़कों के धंसने का सिलसिला बंद हो। पिछले छह माह में कई जगह डाट नाला बैठने से सड़कें धंस चुकी है। इसका असर व्यापार पर भी पड़ रहा है।

जरीब चौकी से रामबाग चौराहा तक डाट नाला गुजर रहा है। अंग्रेजों के जमाने में डाट नाला पड़ा था। मियाद पुरी हो गई है। साथ ही सड़क पर वाहनों के बढ़ते लोड के कारण लगातार डाट नाला धंस रहा है। अभी 80 फीट रोड, रामबाग, हरसहाय कालेज पीरोड के पास डाट नाला धंसने से रास्ता बंद हो गया है। अभी तीनों जगह डाट नाला ठीक होकर रास्ता ठीक नहीं हो पाया है कि फिर लेनिन पार्क चौराहा पीरोड के पास और पीरोड चौराहा के पास फिर डाट नाला बैठने से सड़क धंस गई।

क्षेत्रीय लोगों ने धंसी सड़क पर बास बल्ली डाल दी है ताकि कोई हादसा न हो। क्षेत्रीय पार्षद रीता पासवान ने बताया कि रोज धंस रहे डाट नाला को बनाने के लिए प्रस्ताव दिया है। ताकि रोज डाट नाला धंसने से सड़कें न धंसे। अब तक कई जगह सड़क धंसने और डाट नाला ठीक करने में लाखों रुपये खर्च हो चुके है। नगर निगम के मुख्य अभियंता एसके सिंह ने बताया कि टीम के साथ निरीक्षण करके धंसी सड़क को ठीक कराएंगे और जरूरत पड़ी तो डाट नाला दुरुस्त किया जाएगा।

Edited By: Abhishek Agnihotri