चित्रकूट, जेएनएन। राजापुर तहसील अंतर्गत राम नगर ब्लॉक क्षेत्र की रगौली ग्राम पंचायत में अन्ना जानवरों से परेशान किसानों ने गुरुवार शाम से दर्जनों जानवर रगौली स्थित प्राथमिक स्कूल में बंद कर दिया। ग्रामीणों के जानवरों को बंधक बनाने के कारण शुक्रवार सुबह स्कूल में पढ़ाई नहीं हो सकी। अभी तक जानवर स्कूल में बंद हैं। ग्रामीण डीएम और एसडीएम को मौके पर बुलाने की मांग कर रहे हैं। 

ग्राम पंचायत रगौली में अन्ना जानवरों को लेकर कोई इंतजाम नहीं किया गया है। अस्थायी पशु आश्रय केंद्र अभी तक बनकर तैयार नहीं हो सका है। इससे नाराज होकर किसानों ने गुरुवार शाम आसपास के जानवर घेरकर प्राथमिक विद्यालय रगौली परिसर में बंद कर दिए। शुक्रवार सुबह बच्चे और शिक्षक स्कूल पहुंचे तो वहां जानवर बंद थे। ऐसे में बच्चे वापस घर लौट गए। किसानों का कहना है कि जब तक अन्ना जानवर खुला रहेंगे तब तक फसल पूरी तरह बर्बाद होती रहेगी। 

बीडीओ के समझाने पर नहीं माने

किसानों को बीडीओ राम नगर ने समझाया लेकिन वह मानने को तैयार नहीं हैं। कहा कि जानवरों का स्थायी हल निकलना चाहिए। जिलाधिकारी और उपजिलाधिकारी को बुलाने की मांग पर अड़े हुए हैं। मौके पर कर्वी कोतवाली की पुलिस भी पहुंच गई है। एसडीएम अश्विनी कुमार पांडेय ने बताया कि किसानों की समस्या संज्ञान में है। सभी को समझाया गया है। जानवर स्कूल परिसर से हटाए जा रहे हैं। जल्द निर्मित हो रहे अस्थायी पशु आश्रय केंद्र व गोशालाओं में इनको शिफ्ट किया जाएगा। इससे समस्या पूरी तरह हल हो जाएगी।

पहाड़ी के लोहदा में बंद किए थे जानवर

ग्रामीणों ने पिछले सप्ताह पहाड़ी ब्लॉक के लोहदा गांव स्थित प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालय में जानवर बंद कर दिए थे। वहां एसडीएम से लेकर पुलिस फोर्स पहुंचने पर ग्रामीण माने थे। इसके बाद जानवरों को अस्थायी पशु आश्रय केंद्र पर बंद कराया गया था। 200 अज्ञात ग्रामीणों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया गया था। 

Posted By: Abhishek