कानपुर, [जागरण स्पेशल]। दो जुलाई की रात सीओ समेत आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के बाद मुठभेड़ में मारे जा चुके प्रेम प्रकाश पांडेय उर्फ प्रेम कुमार की बहू मनु व विकास दुबे के भाई दीप प्रकाश और उसकी पत्नी अंजली के बीच फोन पर बातचीत का ऑडियो मंगलवार को वायरल हुआ है। ऑडियो में मुठभेड़ व पुलिस पहुंचने पर उससे बचने को लेकर बातचीत के अंश हैं।

मंगलवार को 2 मिनट 25 सेकेंड का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। दावा है कि यह बातचीत प्रेम कुमार पांडेय के बेटे शशिकांत की पत्नी मनु और विकास के भाई दीपू व उसकी पत्नी अंजली दुबे के बीच की है। अंजली ही वर्तमान में गांव की प्रधान है। वायरल ऑडियो के अनुसार मनु ने घटना के बाद फोन पर विकास और उसके साथियों के पुलिस वालों की हत्या करने की जानकारी दी थी। वह उनसे पूछ रही है कि वारदात के बाद ससुर और पति फरार हो गए हैं, ऐसे में अब वह क्या करे।

वायरल ऑडियो में बातचीत के अंश

मनु : हैलो

अंजली : हैलो

मनु : हैलो भाभी.. बाहर दो आदमी मरे पड़े हैं। मेरे दरवाजे और आंगन में एक आदमी मरा पड़ा है। यह सब लोग भाग गए हैं। क्या कहेंगे पुलिस जब आएगी।

अंजली : तो वो लोग हैं कौन?

मनु : भाभी वह पुलिस वाले हैं। विकास भैया ने मारा है। इन सब लोगों ने मारा है।

अंजली : पुलिस वाले हैं?

दीप प्रकाश : फोन नंबर डिलीट करो सबसे पहले।

मनु : भैया हम मोबाइल स्विच ऑफ करके छुपा दे रहे हैं।

दीप प्रकाश : पहले सब नंबर डिलीट कर देना ये वाले। उनसे कह देना हमको नहीं पता। हम तो अंदर थे, बता देना।

अंजली : स्विच ऑफ करके बैटरी हटा देना।

मनु : भइया...भाभी...ये बताइये कि जब वह पूछेंगे कि तुम्हारा आदमी कहां गया। तुम्हारा आदमी तो दिन की ड्यूटी करके आया था तो क्या बताएंगे? पापा वापा सब लोग भाग गए।

अंजली : कह देना आया ही नहीं...आया ही नहीं...आया ही नहीं... वहां पर उनकी डबल शिफ्ट थी।

मनु : नहीं, वहां से तो पता ही चल जाएगा।

अंजली : तो कह देना कहां गए, हमको बताया ही नहीं, हमको फोन ही नहीं किया। उनसे कहना फोन ही नहीं किया हमारे पति देव ने। अब यह तो आप बता रहे हैं कि वह वहां नहीं था।

मनु : भाभी... अब ये बताइये कि अगर हम मोबाइल स्विच ऑफ कर दें तो मोबाइल की लोकेशन पता नहीं चलेगी। ये अपना भी मोबाइल यहीं छोड़ गए हैं।

अंजली : तुम बैटरी हटा दो... बैटरी हटा दो।

दीप प्रकाश : इसमें बैटरी नहीं हटेगी, सिम निकाला जाता है।

मनु : तो फिर स्विच आफ कर दूं।

दीप प्रकाश : नहीं, पहले नंबर डिलीट कर दो।

अंजली : हां, पहले तुम मेरा वाला नंबर डिलीट कर देना और फिर जो सोनू (रिचा दुबे) ने किया हो वह नंबर डिलीट कर देना। तुम ऐसे ही रख दो नहीं तो कहेंगे कि फोन स्विच ऑफ क्यों किया।

मनु : भाभी तो वो बोलेंगे कि जब तुम्हारे आंगन में एक आदमी मारा गया तो तुमने पुलिस को फोन क्यों नहीं किया। यही कहो बोलने लगें। मैं फोन ही हटा दूं। कह दूंगी कि मेरे पास फोन ही नहीं था।

अंजली : हां..हां..हां.. यही ठीक है।

मनु : भाभी क्या होगा अब?

अंजली : कुछ नहीं, तुम परेशान मत हो, भगवान सब ठीक करेगा।

दीप प्रकाश : अगर मौका मिले तो तुम निकल जाओ घर से।

मनु : कैसे कहां निकल जाएं, मम्मी तो चल भी नहीं सकतीं।

दीप प्रकाश : ठीक है, पहले नंबर डिलीट करो। अब हमसे कोई मतलब मत रखना। 

Posted By: Abhishek Agnihotri

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस