कानपुर, जेएनएन। हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे और जय बाजपेयी की शागिर्दी में रहे पुलिसकर्मी भी करोड़पति हो गए। जय के विरोधी सौरभ भदौरिया ने मंगलवार को जो दस्तावेज प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को सौंपे, उसमें पुलिसकर्मियों की काली कमाई का चि_ा भी है। उनका दावा है कि तीन आइपीएस, दो पीपीएस अधिकारियों के अलावा 11 अन्य पुलिसकर्मियों के नाम हैं पर संपत्तियों का ब्योरा आठ-नौ लोगों का ही दिया है।

इस लिस्ट में शामिल सबसे अमीर पुलिस वाला एक इंस्पेक्टर है, जिस पर कन्नौज के तत्कालीन एएसपी केसी गोस्वामी की जांच रिपोर्ट में भी सवाल खड़े किए गए हैं। दावा है कि इंस्पेक्टर ने काली कमाई से बस्ती में अस्पताल व स्कूल, मोठ के पास झांसी-जालौन रोड पर तीन बीघा जमीन, पी रोड में एक मकान, झांसी में मकान बनाया। कुल 16 संपत्तियों के दस्तावेज दिए गए हैं, जिसकी कीमत 17 करोड़ रुपये बताई गई है। जय के फर्जी गनर वाले मामले में सहयोग करने वाले दारोगा की भी तीन करोड़ की संपत्तियां होने का दावा है। बताया गया है कि उसके पास कल्याणपुर, केशवपुरम, ग्वालटोली व बजरिया में आवासीय प्लाट के अलावा कन्नौज में भी संपत्तियां है।

खास बात यह है कि इंस्पेक्टर जहां-जहां रहे दारोगा उनके पीछे परछाई बनकर चले। इसी तरह केसी गोस्वामी की रिपोर्ट में शामिल और वर्तमान में एक चौकी इंचार्ज के पास मैनपुरी में 16 बीघा कृषि योग्य भूमि, उन्नाव में अजगैन के पास जमीन, कल्याणपुर व दादानगर में प्लाट हैं। इस दारोगा के पास भी तीन करोड़ की संपत्तियां हैं। एक अन्य दारोगा के पास सनिगवां, दादानगर, केशवपुरम, मथुरा, इटावा और कानपुर देहात में आठ करोड़ रुपये की संपत्ति होने का दावा किया गया है। एक अन्य इंस्पेक्टर के पास भी इंद्रानगर व कल्याणपुर में प्लाट के अलावा मैनपुरी में जमीनें होने की जानकारी ईडी को दी गई है।

जय के घर में रहने वाले दारोगाओं को फिर दीं चौकियां

जय के घर में रहने के आरोप में 20 अगस्त को दारोगा राजकुमार, उस्मान व खालिद को निलंबित कर दिया गया था। दारोगा राजकुमार को लाटूश रोड और उस्मान को दहेली सुजानपुर चौकी का प्रभारी बनाया गया है। राजकुमार के खिलाफ तो केसी गोस्वामी की रिपोर्ट में भी लिखा गया था।

  • अभी ईडी ने इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मांगी है। अगर कोई जानकारी मांगी जाएगी तो विभाग के पास मौजूद हर जानकारी साझा की जाएगी। -डॉ. प्रीतिंदर सिंह, एसएसपी

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस