कानपुर, जेएनएन। मंडलायुक्त आवास में तकरीरें पढऩे के आरोपित पूर्व कमिश्नर एवं उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम के चेयरमैन मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन को लेकर एक नया वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में पूर्व कमिश्नर नीचे बैठे हैं। एक शख्स किसी आमिर खान और शाहरुख खान की चर्चा करते हुए कह रहा है कि वे दोनों भी कमिश्नर साहब की तकरीर के मुरीद हैं। आमिर ने तो अपने बहनोई को कानपुर भेजा ताकि वह उनका सलाम कमिश्नर साहब तक पहुंचा सकें। यह वीडियो एसआइटी (विशेष जांच दल) तक भी पहुंच गया है। इसकी फोरेंसिक जांच का फैसला हुआ है।

गुरुवार को तीन मिनट 30 सेकेंड का एक वीडियो वायरल हुआ। जागरण डाट कॉम इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। वायरल वीडियो में पूर्व कमिश्नर इफ्तिखारुद्दीन जमीन पर बैठे हैं, जबकि एक दूसरा व्यक्ति कमिश्नर आवास पर बैठे लोगों को संबोधित कर रहा है। इफ्तिखारुद्दीन की शान में कसीदे पढ़ते हुए वह कह रहा है कि आइएएस की तकरीरों से जुड़े वीडियो से आमिर खान तो इतना प्रभावित हुए कि उन्होंने कमिश्नर साहब को खुद फोन किया और बाद में अपने बहनोई को इनसे मिलने के लिए भेजा। इस दौरान कमिश्नर साहब की लिखी कुछ किताबें भी आमिर के बहनोई अपने साथ ले गए। दूसरी ओर इसी वीडियो में तकरीर करता हुआ शख्स यह भी कह रहा कि कमिश्नर साहब की तकरीर से शाहरुख खान भी इतना प्रभावित हुए कि उन्होंने कुरआन पढऩा शुरू कर दिया। हालांकि वीडियो में यह नहीं बताया गया कि ये आमिर और शाहरुख कौन हैं। हालांकि इस नए वीडियो को भी एसआसइटी ने अपनी जांच में शामिल कर लिया है। इस वीडियो को जांच के लिए फोरेंसिक लैब के लिए भेजा जाएगा। एसआइटी के पास अब तक चार वीडियो पहुंच चुके हैं।

एसआइटी ने दिन भर जुटाए दस्तावेजी साक्ष्य

वायरल वीडियो में आरोपित पूर्व कमिश्नर मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन के खिलाफ एसआइटी ने गुरुवार को दस्तावेजी साक्ष्य एकत्र किए। एसआइटी के अध्यक्ष व सीबीसीआइडी के पुलिस महानिदेशक जीएल मीणा ने सर्किट हाउस में ही मंडलायुक्त कार्यालय से कुछ दस्तावेज मंगाए और उन्हें जांच में शामिल किया। गुरुवार को एसआइटी ने न किसी से पूछताछ ही की और न ही कहीं जाकर निरीक्षण किया।

Edited By: Abhishek Agnihotri