जागरण संवाददाता, कानपुर : नवरात्र के दौरान वैवाहिक समारोहों से जुड़ी पार्टियों की संख्या बढ़ने की वजह से सब्जियों की कीमतों में आग लग गई है। सब्जी कारोबारियों के मुताबिक पिछले डेढ़ वर्ष में इतनी पार्टियां नहीं हुईं जितनी नवरात्र के दौरान हो चुकी हैं। इसकी वजह से सब्जियों की मांग बढ़ी तो उनकी कीमतें भी बढ़ गई हैं। कई सब्जियों की कीमत तो दोगुनी तक हो चुकी हैं।

कोरोना के चलते पिछले वर्ष मार्च के बाद वैवाहिक समारोह एक के बाद स्थगित होने लगे थे। बाद में कुछ विवाह समारोह हुए तो बाकी कार्यक्रम भी उसी समय कराते हुए उनका स्वरूप बहुत छोटा कर दिया गया था। इसकी वजह से चीजों की खपत बहुत कम हो गई थी। अब सबकुछ खुल चुका है और खुले लान में पार्टी में लोगों की संख्या पर कोई पाबंदी नहीं है, इसलिए पार्टियों में रौनक भी बढ़ गई है। सब्जी विक्रेता दीनदयाल गुप्ता के मुताबिक सब्जी की मांग बढ़ने की वजह से कीमतें भी बढ़ रही हैं। कैटरर, रेस्टोरेंट संचालक, होटल संचालकों की तरफ से सब्जियों की मांग बढ़ गई है। पैदावार की अपेक्षा खपत अधिक है। इसलिए भाव में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है।

------------

सब्जियों की कीमत

सब्जी एक सप्ताह पहले आज की कीमत

आलू 16-17 25

प्याज 25-30 45-50

टमाटर 40-50 80-90

शिमला मिर्च 60-70 100-120

बैंगन 40 60

गाजर 30-35 50

मूली 40 50

परवल 30 60

गोभी फूल 20-25 40-50

बंदा गोभी 20-25 40

(नोट : फूल गोभी, बंदा गोभी प्रति पीस के हिसाब से हैं। बाकी सब्जियां किलो के हिसाब से।)

Edited By: Jagran