कानपुर, जेएनएन। जीटी रोड पर नारामऊ में गुरुवार शाम ओवरटेक कर रही शिक्षिकाओं से भरी वैन में सामने से आ रही तेज रफ्तार रोडवेज बस ने टक्कर मार दी। इससे वैन रेलवे गार्डर से जा टकराई और आवास विकास तीन निवासी 30 वर्षीय वैन चालक महेंद्र कमल की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पांच शिक्षिकाएं और एक बच्चा घायल हो गया। उन्हें एलएलआर (हैलट) व निजी अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। हादसे के बाद चालक बस छोड़कर भाग निकला। इससे बस में सवार यात्री अन्य साधनों से गंतव्य को चले गए।

शाम को बिल्हौर से लौट रही थीं सभी

वैन चालक महेंद्र कमल रोज की तरह छुट्टी होने के बाद शिक्षिकाओं को बिल्हौर से लेकर कल्याणपुर आ रहे थे। जीटी रोड पर नारामऊ चौकी के पास रतन प्लेनेट के सामने महेंद्र एक वाहन को ओवरटेक करने लगे। इसी दौरान बिल्हौर की ओर जा रही विकासनगर डिपो की तेज रफ्तार बस ने वैन में टक्कर मार दी। चालक स्टेयङ्क्षरग नहीं संभाल पाया और वैन दायीं ओर रेलवे गार्डर से जा टकराई। हादसे में वैन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई और महेंद्र उसी में फंस गए। वहीं पीछे बैठी शिक्षिकाएं भी घायल हो गईं।

राहगीरों ने निकालकर पहुंचाया अस्पताल

हादसा देख जीटी रोड पर चल रहे वाहन रुक गए और राहगीरों ने शिक्षिकाओं व वैन चालक को निकालकर एलएलआर अस्पताल भेजा, जहां डाक्टरों ने चालक को मृत घोषित कर दिया। घायल शिक्षिकाओं में चुन्नीगंज निवासी वसुंधरा, आवास विकास निवासी दिव्या त्रिपाठी, उनका नौ वर्षीय बेटा हिमांशु, केशवपुरम निवासी हिना वर्मा व सोनी कुशवाहा और आवास विकास निवासी सत्यभामा शामिल हैं। थाना प्रभारी कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया बस को कब्जे में लिया गया है। उसके चालक की तलाश की जा रही है। शिक्षिकाओं की हालत स्थिर है।  

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस