कानपुर, जागरण संवाददाता। कानपुर समेत आसपास के जिलों में भी रविवार की सुबह उप्र शिक्षक पात्रता परीक्षा देने के लिए परीक्षार्थी दोबारा तय केंद्रों पर पहुंच गए। कड़ाके की ठंड में अभ्यर्थी और उनके अभिभावक परीक्षा केंद्र के बाहर गेट खुलने का इंतजार करते रहे और तय समय पर अभ्यर्थियों को कोविड प्रोटोकाल का पालन कराते हुए प्रवेश दिया गया। जिला प्रशासन व शिक्षा विभाग ने एक दिन पहले ही सभी केंद्रों पर परीक्षा की तैयारियां पूरी कराईं। दो पाली में आयोजित परीक्षा में कानपुर में सुबह 76 केंद्रों पर शुरुआत हो चुकी है और अब दूसरी पाली में 54 केंद्रों पर परीक्षा होनी है। इसी तरह आसपास फतेहपुर, फर्रुखाबाद, औरैया समेत जिलों में भी अभ्यर्थी दोबारा परीक्षा देने पहुंचे हैं।

उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा में शामिल होने के लिए रविवार सुबह सात बजे से अभ्यर्थियों का कानपुर में परीक्षा केंद्रों के बाहर जुटना शुरू हो गया। सर्द सुबह में महिला व पुरुष अभ्यर्थी ठंड से ठिठुरते हुए केंद्रों में तीन स्तरीय जांच प्रक्रिया से गुजरे। पहली पाली में 76 केंद्रों पर सुबह दस बजे से शुरू होने वाली परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों को सुबह साढ़े आठ बजे से प्रवेश दिया गया। युनाइटेड पब्लिक स्कूल सिविल लाइंस, डीएवी इंटर कालेज, राजकीय बालिका इंटर कालेज, बीएनएसडी इंटर कालेज, हरसहाय कालेज, मां कस्तूरबा इंटर कालेज, एवी विद्यालय इंटर कालेज, जुहारी देवी बालिका इंटर कालेज, बीएनडी कालेज, कैलाश नाथ बालिका इंटर कालेज, खालसा बालिका इंटर कालेज सहित अन्य केंद्रों पर अभ्यर्थियों की लंबी लाइन लगी।

जिला प्रशासन की ओर से सभी केंद्रों पर अभ्यर्थियों की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। प्रश्नपत्र के बंडल खुलने के दौरान वीडियोग्राफी कराई गई। कोरोना के दृष्टिगत अभ्यर्थी परीक्षा शुरू होने से डेढ़ घंटे पहले से केंद्र में प्रवेश दिया गया। पहली पाली (प्राथमिक स्तर) सुबह 10 से 12.30 बजे के बीच 76 केंद्र पर 40 हजार अभ्यर्थी एवं दूसरी पाली (उच्च प्राथमिक स्तर) दोपहर 2.30 बजे से शाम पांच बजे के बीच 54 केंद्रों पर 29 हजार अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होंगे। प्रत्येक केंद्र पर 250 से 700 अभ्यर्थी परीक्षा देंगे। केंद्रों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल, सचल दल प्रभारी एवं प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर दो पर्यवेक्षक (प्रशासन/शिक्षा विभाग) केंद्रवार तैनात किए गए हैं।

रोडवेज व सिटी बसों में निश्शुल्क सफर : उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) के लिए रोडवेज व सिटी बसों में अभ्यर्थियों को निश्शुल्क यात्रा की सुविधा दी गई है और परिवहन निगम ने हेल्प डेस्क भी बनाई है। झकरकटी बस अड्डे पर तैनात रोडवेज अधिकारी अभ्यर्थियों का मार्गदर्शन कर रहे हैं। अभ्यर्थी शहर में भी सिटी बसों के माध्यम से परीक्षा केंद्र तक जा सकते हैं। रोडवेज के सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक राजेश सिंह कहते हैं कि टीईटी के दौरान 22, 23 व 24 जनवरी को रोडवेज बसों के साथ सिटी बसों में भी अभ्यर्थी निश्शुल्क यात्रा कर सकते हैं। इसके लिए उनको अपने टीईटी प्रवेश पत्र की फोटो कापी पर बस का नंबर व यात्रा विवरण लिखकर अपने हस्ताक्षर के साथ परिचालक के पास जमा करना होगा। प्रवेश पत्र पर अपट्रिप या डाउनट्रिप भी लिखना होगा।

Edited By: Abhishek Agnihotri