कानपुर, जागरण संवाददाता। प्रचार के नए तरीके में रैलियों और जुलूस से हटकर कैराना से हर घर भाजपा अभियान शुरू करने वाले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अब कानपुर आ रहे हैं। वह दो फरवरी को कानपुर में होंगे। इस दौरान वह न सिर्फ घर-घर लोगों से संपर्क करने जाएंगे वरन मंदिरों में दर्शन करेंगे और मतदाताओं के साथ संवाद भी स्थापित करेंगे।

कोरोना संक्रमण के चलते चुनाव आयोग ने रैलियों और बड़ी चुनावी सभाओं पर रोक लगा रखी है। इसे देखते हुए भाजपा ने अपने बड़े नेताओं को घर-घर तक जनसंपर्क करने की जिम्मेदारी सौंप दी है। पश्चिम उत्तर प्रदेश में अमित शाह ने हर घर भाजपा अभियान शुरू किया था। कानपुर में नामांकन दाखिल करने की अंतिम तारीख एक फरवरी है। इसके ठीक अगले दिन केंद्रीय गृह मंत्री शहर में रहेंगे। प्रदेश नेतृत्व ने उनका कानपुर का कार्यक्रम तय कर दिया है, हालांकि अभी कानपुर के नेताओं को इसकी जानकारी नहीं है। इस अभियान के दौरान वह लोगों से संपर्क करेंगे और प्रदेश सरकार की उपलब्धियों के पत्रक देंगे।

साथ ही पूरी हुई हर आस, घर-घर हुआ विकास के स्टीकर भी घरों के दरवाजों पर चस्पा करेंगे। प्रदेश नेतृत्व ने शहर के कुछ प्रमुख मंदिरों में उनके भ्रमण का भी कार्यक्रम बनाया है। इसके साथ ही एक कार्यक्रम ऐसा भी होगी जिसमें सीमित संख्या में लोगों से उनकी बात हो सके। इस संबंध में भाजपा कानपुर बुंदेलखंड क्षेत्र के अध्यक्ष मानवेंद्र ङ्क्षसह ने कहा कि अभी कार्यक्रम की जानकारी उनके पास नहीं आई है। हो सकता है कि एक-दो दिन में इसकी जानकारी आ जाए।

Edited By: Abhishek Agnihotri