फर्रुखाबाद, जेएनएन। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा.दिनेश शर्मा ने कहा है कि सरकारें और बड़े नेता कुछ नहीं करते, कार्यकर्ता तय कर लें तो भाजपा को कोई ताकत हरा नहीं सकती है। वर्तमान में भाजपा जहां है, उसमें कार्यकर्ताओं का परिश्रम ही सर्वोपरि है। उन्होंने कहा कि नए लोगों को पार्टी में जोड़ना होगा, पुराने लोगों का सम्मान बनाए रखना है और आपस में सामंजस्य बैठाना है, तभी हम पार्टी को आगे ले जा सकेंगे। वह शनिवार को जनपद में आवास विकास कालोनी स्थित भाजपा कार्यालय में बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा राष्ट्रवादियों को एकजुट करने में लगी है। सपा, बसपा व कांग्रेस लोगों को भ्रमित करने का प्रयास कर रही हैं। भाजपा वर्गवाद में विश्वास नहीं रखती। हमारा उद्देश्य राष्ट्रवादियों को एकजुट करना है। उन्होंने राहुल गांधी व प्रियंका बाड्रा का नाम लिए बिना कहा कि यह भाई-बहन का परिवार है। इस परिवार में एक रायबरेली से सांसद हैं, एक अमेठी से चुनाव हार गए। एक नेता आजमगढ़ से सांसद हैं। यह लोग कोरोना काल में अपने संसदीय क्षेत्र तक में नहीं गए। जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना से पीड़ित होने के बावजूद वर्चुअल बैठकें करते रहे। वह स्वयं भी संक्रमित हुए और अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। हमारी पार्टी के किसी कार्यकर्ता ने सक्रियता नहीं छोड़ी और घर-घर जाकर लोगों की मदद करते रहे।

उन्होंने कार्यकर्ताओं से कहा कि प्रदेश में निर्माणाधीन पांच एक्सप्रेस वे, 23 हवाई अड्डे, मेडिकल कालेज व अन्य विकास कार्यों की जानकारी आम जन तक पहुंचाएं। उत्तर प्रदेश में पिछले साढ़े चार साल में एक भी दंगा नहीं हुआ। पहले हर माह कहीं न कहीं कर्फ्यू लगता था। उन्होंने कहा कि राममंदिर को लेकर हमारी मजाक उड़ायी जाती थी, अब मंदिर बन रहा है। अयोध्या, मथुरा समेत सभी तीर्थस्थलों में मुख्यमंत्री सहित पूरा मंत्रिमंडल जाकर नतमस्तक होता है। हम भारतीय संस्कृति को स्थापित करने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि मुस्लिम बहनों के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कानून बनाया। 70 मिनट में कश्मीर को बदल दिया, धारा 370 को हटाना छोटी बात नहीं थी।

कल्याण सिंह व ब्रह्मदत्त ने कार्यकर्ताओं को बनाया नेता : उपमुख्यमंत्री डा.दिनेश शर्मा ने फर्रुखाबाद से अपने संबंधों का जिक्र करते हुए कहा कि स्व.ब्रह्मदत्त द्विवेदी उन्हें हर बार फर्रुखाबाद बुलाते थे। वह जमीन पर बैठकर उनके साथ रणनीति बनाते थे। उन दिनों बागीश अग्निहोत्री, सदानंद शुक्ला, प्रभुदत्त द्विवेदी जैसे कार्यकर्ताओं के साथ काम करते थे। पूर्व मुख्यमंत्री स्व.कल्याण सिंह ने हमसे मुकेश राजपूत के बारे में पूछा था। कल्याण सिंह व ब्रह्मदत्त ऐसे नेता थे जिन्होंने कार्यकर्ताओं को नेता बनाया।

अधिकारियों के साथ की बैैठक : उपमुख्यमंत्री डा.दिनेश शर्मा ने फतेहगढ़ स्थित पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस में जिलाधिकारी मानवेंद्र सिंह, पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार मीणा, अपर जिलाधिकारी विवेक श्रीवास्तव आदि अधिकारियों के साथ बैठक की। इसके बाद उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ अलग से बैठक की। पार्टी के जनप्रतिनिधियों से भेंट की। सांसद मुकेश राजपूतए भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त द्विवेदी, विधायक सुशील शाक्य, विधायक मेजर सुनील दत्त द्विवेदी, विधायक नागेंद्र सिंह राठौर, विधायक अमर सिंह खटिक, जिलाध्यक्ष रूपेश गुप्ता, जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन कुलदीप गंगवार, भूदेव सिंह राजपूत मौजूद रहे।

Edited By: Abhishek Agnihotri