कानपुर, जागरण संवाददाता। UP Vidhan Sabha Chunav 2022 : विधानसभा चुनाव के लिए मंगलवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। सुबह 11 से अपराह्न तीन बजे तक पर्चा भरा जाएगा। इस दौरान, विशेष सतर्कता बरतनी होगी क्योंकि छोटी सी भी गलती विधायक बनने का सपना तोड़ सकती है।

नामांकन कक्ष के बाहर विधानसभाओं के नाम लिखने के साथ ही बैरीकेडिंग भी कर दी गई है। जिस उम्मीदवार को जहां से नामांकन करना है वह उसी न्यायालय कक्ष में जाएगा। निर्दलीय और पंजीकृत दलों के उम्मीदवारों को 10 प्रस्तावकों के साथ नामांकन करना है, लेकिन कोरोना प्रोटोकाल के तहत एक बार में सिर्फ दो प्रस्तावक ही कक्ष में जाएंगे। उनके बाहर आने के बाद दो-दो प्रस्तावक भेजे जाएंगे। नामांकन कक्ष के बाहर सैनिटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था होगी। बिना मास्क किसी को भी प्रवेश नहीं मिलेगा। मंगलवार से ही जिले में अधिसूचना लागू हो जाएगी।  

आनलाइन भी कर सकेंगे नामांकन

निर्वाचन आयोग ने कोरोना के प्रकोप को देखते हुए आनलाइन नामांकन की भी सुविधा दी है। कोई भी व्यक्ति घर बैठे आयोग के सुविधा एप के माध्यम से नामांकन कर सकता है। बाद में नामांकन पत्र का ङ्क्षप्रट निकालकर इसकी नोटराइज्ड कापी रिटर्निंग अफसर के पास जमा होगी। आनलाइन ही जमानत राशि भी जमा हो जाएगी। नामांकन पत्र जब भरा जाएगा तो उसे सबमिट करने के बाद ही जमानत राशि जमा करने के लिए पे लिंक पर जाना होगा। वैसे आनलाइन जमानत राशि यदि जमा नहीं हो पा रही है तो ट्रेजरी चालान के माध्यम से भी इसे जमा किया जा सकता है।

आनलाइन नामांकन की प्रक्रिया

आनलाइन नामांकन करते समय सुविधा एप पर जनवरी से मार्च 2022 इलेक्शन का आप्शन आएगा। इस पर मोबाइल नंबर भरेंगे और सबमिट करेंगे तो वन टाइम पासवर्ड आएगा। वन टाइम पासवर्ड फीड करते ही नामांकन प्रपत्र खुल जाएगा। ई-नामिनेशन फार्म भरने के साथ ही ई-चालान की सुविधा भी यहीं मिल जाएगी।

यहां करें आनलाइन नामांकन

https://suvidha.eci.gov.in/login

पर्चा भरते समय नहीं होनी चाहिए कोई गलती

नामांकन करते समय बड़ी ही सतर्कता की जरूरत है। प्रारूप-26 को भरते समय अगर जरा सी गलती हुई या कोई जानकारी छूटी तो नामांकन रद हो सकता है। प्रस्तावक भी उसी विधानसभा क्षेत्र का होना चाहिए जहां से नामांकन किया जा रहा है। अदेयता प्रमाण पत्र हो या अपराध, शैक्षिक योग्यता, जन्मतिथि आदि जानकारियां सही अंकित होनी चाहिए। नामांकन प्रपत्र में आपराधिक रिकार्ड, चल-अचल संपत्ति का विवरण भी देना है। इन कालम को खाली न छोड़ें। पांच साल का रिटर्न भी भर दें। शादी हुई है या नहीं, बैंक का अगर कोई लोन हो, किसी भी तरह का कोई मुकदमा दर्ज हुआ हो आदि जानकारी देना जरूरी है।

चार सेट में भर सकेंगे पर्चा

उम्मीदवार चार सेट में नामांकन करेगा। अगर किसी त्रुटि के कारण तीन सेट खारिज हो जाते हैं तो चिंता की बात नहीं है। अगर एक सेट सही है तो उम्मीदवार माने जाएंगे। चारों सेट खारिज होने का मतलब है कि विधायक बनने का सपना टूट चुका है।

नामांकन के समय इन बातों का रखें ध्यान

-प्रस्तावकों के मतदाता पहचान पत्र की प्रमाणित छायाप्रति नामांकन पत्र के साथ लगेगी।

-प्रस्तावक उस विधानसभा क्षेत्र का होगा जहां से प्रत्याशी नामांकन कर रहा है।

-अनुसूचित जाति और जनजाति के उम्मीदवारों को पांच हजार रुपये, शेष उम्मीदवारों को 10 हजार रुपये जमानत राशि देनी है।

-अनुसूचित जाति व जनजाति के उम्मीदवारों को जाति प्रमाण पत्र लगाना होगा।

-नामांकन पत्र के साथ प्रारूप-26 के सभी कालम भरना जरूरी है।

-निर्दलीय और पंजीकृत दल के उम्मीदवार 10 प्रस्तावक और राष्ट्रीय व मान्यता प्राप्त दल के उम्मीदवार एक-एक प्रस्तावक लाएंगे।

-नामांकन पत्र के साथ मतदाता सूची की प्रमाणित छायाप्रति होनी चाहिए।

-शपथ पत्र नोटरी या ओथ कमिश्नर द्वारा सत्यापित होना चाहिए।

- खुद का, पत्नी और बच्चों का खाता संख्या देना जरूरी है।

इन न्यायालयों में दाखिल होगा पर्चा

विधानसभा सीट      नामांकन स्थल

बिल्हौर                    तहसीलदार सदर

बिठूर                    एसडीएम सदर

कल्याणपुर            एसीएम छह

गोविंद नगर             एसीएम सात

सीसामऊ                एसीएम तीन

आर्यनगर                  एसीएम चार

किदवई नगर           एसीएम एक

कानपुर कैंट           एसीएम दो

महाराजपुर            एसीएम पांच

घाटमपुर                सिटी मजिस्ट्रेट

नहीं निकाल सकेंगे जुलूस

निर्वाचन आयोग ने जुलूस पर रोक लगा रखी है। ऐसे में कोई भी उम्मीदवार जुलूस नहीं निकाल सकता है। जिसे भी नामांकन के लिए आना होगा वह प्रस्तावक के साथ आएगा। चेतना चौराहा, सरसैया घाट चौराहा या फिर पुलिस लाइन के पास ही कार रोककर पैदल ही अंदर जाएगा। साथ में सिर्फ प्रस्तावक ही जाएंगे। अगर कोई जुलूस निकालता है तो माना जाएगा कि उसने कोविड प्रोटोकाल और चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया है। इन चौराहों पर बनी बैरीकेडिंग के पास ही भीड़ को रोकने की व्यवस्था भी की गई है।

-25 जनवरी से 01 फरवरी तक नामांकन होगा।

-02 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी।

-04 फरवरी को 11 बजे से दिन में तीन बजे तक नाम वापस ले सकते हैं।

-04 फरवरी को उम्मीदवारों को चुनाव निशान बंटेगा।

Edited By: Abhishek Verma