फर्रुखाबाद, जेएनएन। Unique Wedding Story UP हर युवक अपने जीवन में करियर काे संवारने के अलावा एक और सपना देखता है...दूल्हा बनने का। निस्संदेह वह इसके लिए काफी इंतजार भी करता है, लेकिन क्या हो अगर किसी युवक के इस सपने के हकीकत में तब्दील होने से पहले कोई अड़चन आ जाए। जी हां, सोमवार को ऐसा ही एक वाकया सामने आया है यूपी के फर्रुखाबाद जिले से जहां जलमग्न हुए गांव ने दुल्हन लेने जा रहे दूल्हे का रास्ता रोक दिया। गांव का दृश्य देखकर दूल्हा समेत बरात में शामिल सभी बराती निराश हो गए। हालांकि कुछ देर के बाद शादी के लिए उत्कंठित दूल्हे ने एक ऐसी तरकीब निकाली जिसने सभी के समक्ष खड़ी समस्या को चुटकियों में हल कर दिया।

यह है पूरा मामला: मऊदरवाजा थानाक्षेत्र की ग्राम पंचायत कटरी धर्मपुर के मजरा पंखियन मड़ैया गांव के यासीन खां के बेटे मुनीश की शादी उन्नाव के शुक्लागंज निवासी गफ्फूर की बेटी से तय हुई थी। सोमवार को उनकी बरात उन्नाव जानी थी। इस दौरान गांव के चारों ओर पानी भरा होने से जब कोई वाहन नहीं मिला तो मजबूरी में उन्हें बाढ़ के पानी में घुसकर निकलना पड़ा। पानी से उनके कपड़े खराब न हो जाएं, इसलिए उन्होंने अपना पैंट उतारकर स्वजन को दे दी। इसके बाद पानी के बीच से गुजरकर सड़क तक पहुंचे। ऐसा ही ज्यादातर बरातियों ने भी किया। सभी लोगों ने सड़क पर आकर कपड़े पहने और उन्नाव के लिए रवाना हो गए। 

इनका ये है कहना: ग्राम प्रधान के प्रतिनिधि शाहिद खान ने बताया कि गंगा में बाढ़ आने की वजह से गांव में चारों तरफ पानी भरा है। इसलिए बरातियों और दूल्हे को पानी के बीच गुजरना पड़ा। कपड़े खराब न हों, इसलिए सभी नेकर पहनकर सड़क तक पहुंचे। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि बाढ़ की हर साल आने वाली मुसीबत से छुटकारा दिलाने का स्थायी इंतजाम किया जाए।   

Edited By: Shaswat Gupta