कानपुर, जेएनएन। रिपब्लिकन पार्टी आफ इंडिया (आठवले) के निशाने पर बसपा का वोटबैंक हैं। पार्टी इसमें सेंध लगाकर प्रदेश में भाजपा की राह और आसान करना चाह रही है। पार्टी की जनाधिकार रैली में राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास आठवले ने कुछ यही संदेश अपने कार्यकर्ताओं को दिया। रूमा के लालापुर स्थित आरजी स्पोर्ट्स ग्राउंड में पार्टी की जनाधिकार रैली में उन्होंने कहा कि यूपी में बसपा दलित और पिछड़े वोटर की कद्र नहीं कर रही है। ऐसे ही लोगों को जोडऩा है और उन्हें समाज में उनका हक दिलाना है।

अब यूपी में बढ़ रही ताकत

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उनकी पार्टी की ताकत बढ़ रही है। कानपुर में इंटक के प्रदेश अध्यक्ष आशीष पांडेय को तोड़कर मजदूर संगठन का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया है। रैली के संयोजक विजय चौरसिया भी बसपा छोड़कर आए है। सहारनपुर में बसपा के एक पूर्व विधायक पार्टी में जल्द ही आएंगे।

महाराष्ट्र में सरकार साबित कर लेगी बहुमत

उन्होंने महाराष्ट्र के मौजूदा संकट पर कहा कि भाजपा के पास बहुमत साबित करने के लिए 30 नवंबर तक का समय है। सरकार बहुमत साबित करने की पूरी कोशिश करेगी। राज्यपाल ने सभी को सरकार बनान का मौका दिया। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस ने सरकार बनाने में देरी की, इसीलिए महाराष्ट्र किसान व आम लोगों के हित में अजीत पवार ने यह फैसला लिया। उन्होंने शरद पवार को धोखा नहीं दिया, बल्कि अपनी जिम्मेदारी निभाई है। सरकार को कोई खतरा नहीं है। विश्वास मत आसानी ने जीता जाएगा।

राउत को बताया असली खलनायक

उन्होंने भाजपा व शिवसेना के बीच पड़ी दरार के लिए शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत को असली खलनायक बताते हुए जिम्मेदार ठहराया। कहा कि उनकी वजह से ही गठबंधन टूटा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस