कानपुर, जेएनएन। चित्रकूट के एक स्कूल में आठवीं की छात्रा को अगवा करने के बाद दुष्कर्म किया गया। करीब नौ दिन बाद आरोपित छात्रा को बस में बैठाकर फरार हो गया। घर पहुंची पीड़िता ने दो युवकों पर दुष्कर्म का आरोप लगाया। जिसके बाद पिता ने पुलिस को जानकारी दी। एक आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है, जबकि दूसरे की पुलिस तलाश कर रही है। हालांकि पूर्व में दर्ज कराए गए मुकदमे में पुलिस ने अभी दुष्कर्म की धारा नहीं बढ़ाई है। पीड़िता का मेडिकल कराया गया।

कमासिन थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 15 वर्षीय किशोरी चित्रकूट के एक स्कूल में कक्षा आठवीं की छात्रा है। 16 फरवरी को वह घर से मां के साथ मंदिर गई थी। आरोप है कि वहां से गांव के रज्जू उर्फ विमलेश व गौरी यादव अपने साथ बहला-फुसलाकर ले गए थे। पिता ने खोजबीन के बाद 18 फरवरी को आरोपितों के विरुद्ध अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस व स्वजन छात्रा व आरोपितों की तलाश कर रहे थे।

खुद लौटी घर, कार से ले गए थे राजापुर गांव

पिता ने पुलिस को बताया कि गुरुवार शाम को आरोपित विमलेश बबेरू से बेटी को बस में कमासिन के लिए बैठाकर फरार हो गया। आरोप लगाया कि कार से अपहरण कर दोनों आरोपित उसे राजापुर गांव ले गए थे। जहां गौरी यादव ने दुष्कर्म किया। बाद में गौरी यादव वापस चला आया था। छात्रा ने उनसे बताया है कि विमलेश उसे पूना ले गया था। पूना में विमलेश ने दुष्कर्म किया है। थाना प्रभारी रामआसरे सिंह ने बताया कि छात्रा का डॉक्टरी परीक्षण कराया गया है। न्यायालय में 164 के बयान कराए जाएंगे। जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।  

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप