चित्रकूट, जेएनएन। वन कर्मियों से मारपीट कर पौधारोपण रुकवाने वाले साढ़े पांच लाख रुपये के इनामी डकैत गौरी यादव के दो साथियों को पुलिस ने पकड़ लिया। आरोप है कि दोनों ने रंगदारी वसूलने के साथ ही गैंग सरगना संग कई वारदातों को अंजाम दिया है। पकड़े गए लोगों ने अपने कुछ साथियों के भी नाम बताए हैं। उनके पास से तमंचा व कारतूस मिला है।

एसपी अंकित मित्तल ने बताया कि मानिकपुर थानाक्षेत्र में सरैयां चौकी प्रभारी संदीप कुमार पटेल ने पुलिस टीम के साथ कालीघाटी से बुधवार शाम शिवकुमार उर्फ नेता निवासी जमुनिहाई थाना मारकुंडी और उसी के गांव के साथी लवलेश यादव को एक-एक तमंचे व कारतूस के साथ पकड़ा। पूछताछ में उन्होंने बताया कि बीती 22 जून को उन्होंने डकैत गौरी यादव उर्फ उदयभान के साथ रैपुरा वन रेंज के गाढ़ाकछार के जंगल में वन विभाग के पौधारोपण के कार्य को रंगदारी न मिलने पर रुकवा दिया था और मजदूरों को मारपीट कर बैठा लिया था। वन विभाग से पैसा न मिलने तक मजदूरों को काम न करने की धमकी दी थी। उन्होंने ट्रैक्टर भी क्षतिग्रस्त कर दिया था। इस बाबत बीती 23 जून को वनरक्षक धीरेंद्र प्रताप ङ्क्षसह ने थाना मानिकपुर में मामला दर्ज कराया था।

एसपी ने बताया कि पकड़े गए डकैत शिवकुमार उर्फ नेता व लवकुश यादव पर मानिकपुर, बहिलपुरवा व मारकुंडी थाना में कई मुकदमे दर्ज हैं। घटना के समय मध्यप्रदेश जिला सतना के बरौंधा थाना अंतर्गत साड़ा निवासी अवधेश कुमार और बहिलपुरवा थाना के बिलहरी निवासी राजा उर्फ रामबहोरी के भी होने की जानकारी मिली है।