कन्नौज, जेएनएन। सौरिख के रूर गांव से खड़िनी के पास पहुंचे ट्रक चालक ने पुल से नहर में छलांग लगा दी फिर बाहर नहीं निकला। उसके डूबने की जानकारी होते ही अफरा-तफरी मच गई और ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी। राहगीरों को नहर किनारे ट्रक चालक का मोबाइल और कपड़े रखे मिले, जिनकी पहचान घरवालों ने की है। पुलिस ने गोताखोरों की मदद से ट्रक चालक की तलाश नहर में करानी शुरू की है।

सौरिख थानांतर्गत खड़िनी चौकी के रूर गांव निवासी 23 वर्षीय रोहित जोशी ट्रक चलाकर परिवार का भरण पोषण कर रहा था। आठ दिन पहले पिता की मृत्यु हो गई थी और वह पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए घर आया था। शनिवार की सुबह वह घर से कुछ बताए बगैर ही निकल गया था और काफी देर तक घर नहीं लौटा तो स्वजन तलाश कर रहे थे। इस बीच राहगीरों ने खड़िनी नहर पुल पर कपड़े व मोबाइल फोन रखा देखा। इसकी जानकारी ग्रामीणों को दी तो स्वजन भी उनके साथ नहर पुल पर पहुंचे। कपड़े व मोबाइल फोन देखकर रोहित का होने की पुष्टि की।

नहर किनारे कपड़े व मोबाइल फोन मिलने पर ग्रामीणों ने शंका जताई कि रोहित ने पुल से नहर में छलांग लगाई है। जब आसपास के लोगों से पूछताछ की गई तो युवक के नहर में कूदने की जानकारी हुई लेकिन किसी ने न देखने की बात कही। इसके बाद स्वजन और ग्रामीणों ने नहर में आसपास रोहित की तलाश शुरू कर दी। सूचना पर पहुंची चौकी पुलिस ने ग्रामीणों और स्थानीय गोताखोरों की मदद से नहर में रोहित की तलाश शुरू कराई। वहीं ग्रामीणों में गृह कलह के चलते रोहित के नहर पुल से कूदने की चर्चा कर रही। हालांकि इसकी अधिकृत पुष्टि अभी नहीं हो रही है।

Edited By: Abhishek Agnihotri