औरैया, जेएनएन। लॉकडाउन में गश्त करके गुरुवार की रात लौट रहे पुरवा सुजान चौकी इंचार्ज को ट्रक ने कुचल दिया। इसके बाद गुजरे 112 पीआरवी कर्मियों ने उन्हें सड़क पर लहूलुहान पड़ा देखकर उच्चाधिकारियों को सूचना। हादसे के बाद एक घंटे से भी अधिक समय सड़क पर लहूलुहान पड़े रहने से उनकी तड़पकर मौत हो गई। पुलिस अधिकारियों ने हादसे की जानकारी परिवार वालों को दी है।

बांदा के बिसंडा गांव निवासी अशोक पटेल औरैया के पुरवा सुजान चौकी में इंचार्ज पद पर तैनात थे। मौजूदा समय में उनका परिवार झांसी में रहता है। गुरुवार की देर रात वह बाइक से गश्त कर रहे थे। गश्त के बाद खाना लेकर आवास लौट रहे थे। देर रात करीब साढ़े बारह बजे 112 पीआरवी वाहन गुजरा तो पुलिस कर्मियों ने नुनारी गांव के पास उन्हें सड़क पर लहूलुहान पड़ा देखा। इसपर उच्चाधिकारियों को सूचना देने के साथ एंबुलेंस बुलाई लेकिन इससे पहले करीब एक घंटे सड़क पर पड़े रहने से वह तड़पकर दम तोड़ चुके थे।

मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने किसी ट्रक द्वारा बाइक में टक्कर मारकर सड़क पर गिरे चौकी इंचार्ज को कुचले जाने की आशंका जताई। पड़ताल में ट्रक और चालक का कुछ पता नहीं चला है। सूचना पर एसपी सुनीति,एएसपी कमलेश दीक्षित समेत सभी अधिकारी पहुंच गए और शुक्रवार की सुबह स्वजनों को फोन पर सूचना दी गई । एसपी सुनीति ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद पुलिस लाइन में अंतिम सलामी दी जाएगी।

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस