कानपुर, जेएनएन। गुरुवार की सुबह दिल्ली-हावड़ा रेल रूट पर झींझक स्टेशन के पास पटरी चटकने से दो घंटे तक रेल यातायात प्रभावित रहा। रेल पथ कर्मी की सूचना पर स्टेशन मास्टर ने ट्रेनों को रोका और बाद में कॉशन देकर धीमी गति से गुजारा गया। इसके बाद करीब आधे घंटे का ब्लाक लेकर तकनीकी टीम ने पटरी बदली।

बारिश के बाद मौसम में रात के समय हल्की ठंड होने से पटरी चटकने का सिलसिला शुरू हो गया है। गुरुवार की सुबह दिल्ली हावड़ा रेल रूट पर झींझक स्टेशन के पश्चिमी ओर अप लाइन पर क्रास पटरी चटक गई। पेट्रोलिंग कर रहे कीमैन श्रीकिशन की नजर पड़ते ही उन्होंने 8:40 बजे स्टेशन मास्टर राजेन्द्र मीणा को सूचना दी। पीडब्ल्यूआई ने सूचना पर तत्काल मौके पर पहुंचकर कॉशन लगाया। इस बीच आने वाली अप स्वतंत्रा सेनानी एक्सप्रेस, झारखंड स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस, हरदुआगंज मालगाड़ी, एमएसटीबी मालगाड़ी को दो दो मिनट रोका गया और फिर धीमी गति से गुजारा गया।

इसके बाद 10:10 बजे से 10:40 बजे तक ब्लाक लेकर चटकी क्रास पटरी को बदला गया। इस दौरान करीब दो घंटे रेल यातायात प्रभावित रहा। पीडब्ल्यूआई पंकज दास ने बताया कि ठंडे गर्म की बजह से क्रास पटरी चटकी थी, उसे हटाकर नई पटरी लगाई गई है। झींझक स्टेशन मास्टर राजेंद्र मीणा ने बताया कि पटरी चटकने से अप लाइन पर दो घंटे तक रेल संचालन प्रभावित रहा। पटरी बदले जाने तक ट्रेनों को धीमी गति से गुजारा गया। 10:40 बजे अप रेल यातायात बहाल हो गया। 

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप