हमीरपुर, जेएनएन। कोतवाली क्षेत्र के इटायल गांव निवासी किशोर की हत्या का पुलिस ने पर्दाफाश करते हुए आरोपित को जेल भेजा है। वहीं घटना में प्रयुक्त डंडा, ईंट व मृतक का मोबाइल फोन बरामद किया गया है। आरोपित ने रंजिश व ताश के खेल में की गई बेइज्जती का बदला लेने के लिए घटना को अंजाम देने की बात स्वीकारी है।

एसपी कमलेश दीक्षित ने बताया कि बीते मंगलवार की शाम राठ कोतवाली क्षेत्र में उरई मार्ग पर लोधेश्वर धाम के सामने स्थित एक कॉलेज के पीछे इटायल गांव निवासी 17 वर्षीय संदीप प्रजापति का शव झाडिय़ों के बीच संदिग्ध हालात में बरामद हुआ। मृतक के सिर पर चोट के निशान थे। घटना को लेकर मृतक संदीप के पिता गणेशी प्रजापति ने अज्ञात के खिलाफ कोतवाली में हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। जांच में पुलिस को एक साल पहले मृतक संदीप के परिवार का झगड़ा गांव के ही नीतेंद्र कुमार पुत्र खड़क के साथ होने की जानकारी हुई। जिस पर पर्याप्त साक्ष्यों के आधार पर नीतेंद्र को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई। जिस पर आरोपित ने जुर्म कबूल कर बताया कि संदीप ने उसे ताश के पत्ते खेलते समय बेइज्जत किया और जान से मारने की धमकी दी थी। जिससे वह उसे सबक सिखाने की फिराक में रहने लगा। बताया कि बीते सोमवार की शाम उसने संदीप को फोन कर बुलाया और शौच जाने की बात कही। एसपी ने बताया कि दोनो कमलादेवी विद्यालय के पीछे गए। आगे-आगे संदीप था तभी पीछे से नीतेंद्र ने उसके सर पर डंडा से कई वार किए और बाद में सिर पर ईंट मार दी। बताया कि आरोपित की निशानदेही पर मृतक का मोबाइल फोन, हत्या में प्रयुक्त डंडा व ईंट बरामद किया गया है।

 

Edited By: Akash Dwivedi