जागरण संवाददाता, कानपुर : यूपी दिवस और राष्ट्रीय बालिका दिवस पर शुक्रवार को छत्रपति शाहू जी महाराज विवि (सीएसजेएमयू) में कला, कौशल, तकनीक का संगम हुआ। सांस्कृतिक समारोह का आयोजन हुआ, जिसमें गर्भ में पलने वाली बेटी को मारने की घटनाओं का जिक्र कर भावुक किया। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया गया।

समारोह में 40 से अधिक विभागों के स्टाल लगाए गए, जहां उद्यमिता, सृजनता, स्वावलंबन की राह दिखाई गई। शिक्षा, आत्मरक्षा, स्वरोजगार की जानकारी दी गई। शहर में साफ-सफाई, भाईचारा के आत्मीयता के साथ ही गंगा स्वच्छता की शपथ दिलाई गई। सामाजिक संस्था की ओर से छात्राओं ने एसिड अटैक की भयावहता और उसके बाद दृढ़ इच्छा शक्ति के मंचन ने नारी सशक्तिकरण का संदेश दिया।

महापौर प्रमिला पांडेय, विश्वविद्यालय की वीसी प्रो. नीलिमा गुप्ता, विधायक भगवती सागर, सुरेंद्र मैथानी, एमएलसी अरुण पाठक, डीएम डॉ. ब्रह्मादेव राम तिवारी, सीडीओ सुनील कुमार सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट हिमांशु गुप्ता समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

---

मां गंगा नारी शक्ति की सबसे बड़ी ब्रांड

डीएम ने कहा कि पूरब का मैनचेस्टर कानपुर की औद्योगिक नगरी के रूप में पहचान है। यह मां गंगा के किनारे बसा हुआ है, जो कि नारी शक्ति की सबसे बड़ी ब्रांड है। आज उसकी स्वच्छता का संकल्प लेना जरूरी है। गंगा यात्रा का समागम कानपुर में ही हो रहा है।

---

बच्चियों को दिलाना होगा मंच

कुलपति प्रो. नीलिमा गुप्ता ने कहा कि बच्चियां समाज के हर क्षेत्र में आगे आ रही हैं, लेकिन उन्हें मंच नहीं मिल पा रहा है। समाज की बराबरी के लिए लोगों को जागरूक होना पड़ेगा। उनके लिए सही मंच दिलाने की जरूरत है।

---

घरेलू सामग्री के सहारे कुपोषण से जंग

बाल विकास एवं पुष्टाहार की ओर से घरेलू खाद्य सामग्री के सहारे कुपोषण मिटाने का संदेश दिया गया। रेखा गुप्ता, निशा, अरुणा, किरण, मालती, माया आदि ने मूंगफली, गरी, किशमिश, घी और चीनी से पौष्टिक लड्डू तैयार किया। दलिया, हरी सब्जी मिलाकर नमकीन पुए बनाने की विधि बताई।

---

महिला सशक्तिकरण का दिया संदेश

सरसौल के शिव शक्ति महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने टैडी बीयर कैंडल, लव कैंडल, क्रिसमस ट्री कैंडल की प्रदर्शनी लगाई। बिधनू की जय मां मुक्तेश्वरी समूह की महिलाओं ने सूट, ब्लाउज और अन्य कपड़ों को प्रदर्शनी में रखा।

---

पुलिस की ताकत दिखाई

प्रदर्शनी में पुलिस की ताकत दिखाई गई। उनके पास मौजूदा हथियारों को प्रदर्शनी में रखा गया। इसमें 303 ग्रैनेड फायर रायफल, 7.62 बोर की एसएलआर, 5.56 बोर की अमोध कार्बाइन, 5.56 एमएम इंसास, कानपुर की बनी कार्बाइन, एके-47, एमपी-5, गैस गन, 51 मोर्टार, एलएमजी, ब्रेन गन, ग्लॉक पिस्टल आदि शामिल हैं।

---

कुछ न कुछ पढ़ने का हुआ आह्वान

प्रशासनिक अफसरों ने छात्रों और शहरवासियों से एक घंटे कुछ न कुछ पढ़ने का आह्वान किया गया। विश्वविद्यालय में मिला जुला असर नजर आया। कक्षाओं में छात्र जरूर पढ़ रहे थे, लेकिन परिसर में आम दिन की तरह का नजारा था। एचबीटीयू में भी छात्रों ने एक घंटे किताबें पढ़ीं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस