कानपुर, [समीर दीक्षित]। श्रमिकों के लिए यह दीपावली का पर्व और लोगों की अपेक्षा कुछ खास होगा। खासतौर से उन श्रमिकों के लिए जो श्रम कल्याण परिषद से पंजीकृत हैं। परिषद की चेतन चौहान श्रमिक क्रीड़ा प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत अभी तक जिला स्तर से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक जो हितलाभ राशि दी जाती रही, उसे अब बढ़ाकर दो से ढाई गुना कर दिया गया है। 

परिषद की कुछ दिनों पहले लखनऊ में हुई 81वीं बोर्ड बैठक में यह फैसला किया गया। परिषद के अध्यक्ष सुनील भराला ने बताया कि उक्त योजना के तहत ऐसे श्रमिक, जिनके पुत्र या पुत्री किसी भी खेल में बेहतर प्रदर्शन करते हैं, उन्हें अब परिषद प्रोत्साहन देगा। परिषद द्वारा हितलाभ राशि देकर उन्हें आर्थिक तौर पर संबल प्रदान किया जाएगा। उन्होंने कहा, कि अक्सर ही सुनने को मिलता था कि आर्थिक विषमता के चलते श्रमिकों के बेटे व बेटी खेलकूद के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा नहीं दर्शा पाते। हालांकि अब उन्हें किसी तरह की दिक्कत नहीं होगी। 

यह हुए बदलाव

  • स्तर      -     पहले हितलाभ राशि थी    - अब मिलेगी 
  • जिला        10 हजार रुपये एकमुश्त   - 25 हजार रुपये 
  • राज्य     -      25 हजार रुपये एकमुश्त  - 50 हजार रुपये 
  • राष्ट्रीय    -     50 हजार रुपये एकमुश्त  -  75 हजार रुपये 

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हुआ चयन तो मिलेंगे एक लाख रुपये: परिषद के आला अफसरों ने बताया कि अगर किसी श्रमिक के बेटे या बेटी का चयन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हो जाता है, तो उसे एक लाख रुपये एकमुश्त एक बार दिए जाएंगे। अफसरों ने कहा, कि इस स्तर पर पहले भी हितलाभ राशि एक लाख रुपये ही थी। जो भी बदलाव हुए हैं, उनका क्रियान्वयन दीपावली के बाद हो जाएगा। 

Edited By: Shaswat Gupta