चित्रकूट, जेएनएन। पत्नी से अनबन के बाद समझौता होने पर सास ससुर ने एक दो दिन बाद विदाई करने की हामी भर दी थी। इसके बाद भी आखिर किस बात का इतना गुस्सा चढ़ा कि दामाद ने रविवार रात खलिहान में सोते समय सास व ससुर पर कुल्हाड़ी से ताबड़तोड़ वार कर दिया। खून से लथपथ ससुर की मौके पर मौत हो गई, जबकि सास को गंभीर हालत में प्रयागराज के अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

चित्रकूट के बरगढ़ थानाक्षेत्र के पनिहई सेमरा निवासी 50 वर्षीय राम सजीवन कोल ने कुछ वर्ष पहले बेटी की शादी प्रयागराज के शंकरगढ़ थानांतर्गत भोंडी निवासी राम भवन कोल के साथ की थी। शादी के बाद पति-पत्नी में अनबन शुरू हो गई। इस पर रामसजीवन की बेटी मायके आ गई थी। आपस में समझौते के बाद दामाद राम भवन रामनवमी के दिन पत्नी को लेने पहुंचा।

इसपर सास ससुर ने एक दो दिन रुककर बेटी को ले जाने की बात कही। रविवार शाम दोनों गांव से करीब 15 किलोमीटर दूर एमपी के सुणवा खदान के पास खलिहान चले गए। देर रात वहां पहुंचे राम भवन ने ससुर व सास पर सोते समय ताबड़तोड़ कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। ससुर राम सजीवन की मौके पर मौत हो गई, जबकि सास 47 वर्षीय छोटी को नाजुक हालत में प्रयागराज के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बरगढ़ थाना प्रभारी मान सिंह ने बताया कि ससुर की हत्या करने के बाद आरोपित दामाद फरार है। परिजनों से पूछताछ की जा रही है, तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Abhishek