जागरण संवादताता, कानपुर : कानपुर देहात के रूरा में चल रही अवैध शराब फैक्ट्री से सचेंडी के शराब ठेके में सप्लाई और बिक्री के लिए सबसे पहले आबकारी विभाग जिम्मेदार है। उसकी निगरानी में ठेका संचालित हो रहा था। इसके बाद जिम्मेदार हलका इंचार्ज व थाना पुलिस है। या तो उसका लोकल सूचना तंत्र फैल है या वह इस बिक्री में संलिप्त है। इन बिंदुओं पर जहरीली शराब कांड में दोषियों की भूमिका की जांच पड़ताल की जा रही है। एडीजी अविनाश चंद्र ने गुरुवार को सचेंडी थाने में अभी तक की जांच प्रक्रिया की समीक्षा के बात यह बात कही। मामले की जांच कर रहे एसपी क्राइम, एसपी ग्रामीण, सीओ स्वरूपनगर और सदर को जांच का दायरा बढ़ाने के दिशा निर्देश दिए।

एडीजी ने विवेचना में शुरू से आखिरी तक की कड़ी से कड़ी मिलाने पर जोर देते हुए कहा कि शराब कांड के पीड़ित घरवालों से लेकर गंभीर हाल में पहुंचे लोगों के भी बयान दर्ज कराए जाएं, जिससे आरोपितों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जा सके। शराब मामले में दस्यु सुंदरी के रिश्तेदारों के नाम आने पर कहा कि सुबूतों के आधार पर कार्रवाई होगी। निर्दोष को परेशान नहीं किया जाएगा और दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

-----------

शराब माफिया की तलाश जारी, दर्जन भर रडार पर

जहरीली या अवैध शराब कारोबार से पांच साल से जुड़े हर शराब माफिया की दोबारा समीक्षा की जाएगी। सक्रियता की आशंका पर भी गैंगस्टर लगाने के साथ हिस्ट्रीशीट खोली जाएगा। जेल से छूटे शराब माफिया की निगरानी के लिए एक टीम लगा दी गई है।

------

विनय का दाहिना हाथ 25 हजार का इनामी सतेंद्र गिरफ्तार

सचेंडी में जहरीली शराब की सप्लाई करने वाला मुख्य आरोपी और फैक्ट्री संचालक पूर्व विधायक रामस्वरूप सिंह गौर के पौत्र विनय सिंह के दाहिने हाथ सतेंद्र सिंह को एसएसपी अखिलेश कुमार की स्वाट टीम ने गिरफ्तार कर लिया। एसएसपी ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर भौंती हाईवे के पास से स्वाट टीम प्रभारी दिनेश यादव ने टीम के साथ गिरफ्तार किया। सतेंद्र के खिलाफ शहर में जहरीली शराब बिक्री के आरोप है। दूसरी तरफ सूत्रों के मुताबिक शराब के काले कारोबार से जुड़े लोगों की धरपकड़ के लिए लगी टीम ने कई ठिकानों का पता लगा कर बुधवार रात में छापेमारी की। बिल्हौर, पनकी, महाराजपुर, कन्नौज, इटावा, औरैया, जालौन, दिबियापुर और कानपुर देहात में छापेमारी के दौरान 11 संदिग्धों को उठाया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस